Thursday, December 2, 2021
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeTRP Newsओलिंपिक ट्रायल : मैरीकॉम को इतना गुस्सा क्यों आया?, निखत को हराकर...

ओलिंपिक ट्रायल : मैरीकॉम को इतना गुस्सा क्यों आया?, निखत को हराकर बिना हाथ मिलाए रिंग से निकलीं

spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

जरीन ने कहा- मुझे गाली भी दी

नई दिल्ली। बॉक्सर एमसी मैरीकॉम ने निखत जरीन को टोक्यो ओलिंपिक क्वालिफायर के लिए 51

किलोग्राम भार वर्ग में ट्रायल मुकाबले में 9-1 से हरा दिया। शनिवार को नई दिल्ली में खेले गए इस

मुकाबले में मैरीकॉम शुरू से ही हावी रही। उन्होंने जरीन को संभलने का कोई मौका नहीं दिया।

 

दोनों के बीच यह चौथा मुकाबला था। इससे पहले मैरीकॉम दो में जीती थीं। एक में जरीन को जीत

मिली थी। मैच के बाद खत्म होने के बाद मैरीकॉम जरीन से हाथ और गले मिलाए बगैर गुस्से में बाहर

निकल गईं। मैरीकॉम ने निखत से हाथ नहीं मिलाने के सवाल पर कहा कि मैं उनसे हाथ क्यों मिलाऊं?

 

अगर वो सम्मान चाहती हैं तो पहले उन्हें सम्मान देना चाहिए। मैं इस तरह की व्यवहार वालों को पसंद

नहीं करती। आप खुद को रिंग में साबित करें, बाहर नहीं। निखत के सपोर्टर ने मुझसे गलत व्यवहार किया।

मैं उन्हें तीन बार हरा चुकी हैं, फिर भी नहीं सुधर नहीं रहे। बाहर बोलते रहना गलत है।

 

मैरीकॉम युवाओं के लिए आदर्श : निखत

दूसरी ओर, निखत ने कहा कि मैरीकॉम युवाओं के लिए आदर्श हैं। उन्हें ऐसा नहीं करना चाहिए था। उन्होंने

मैच के बाद ही नहीं मैच के दौरान भी मुझे गाली दी थी।ÓÓ मुकाबले के दौरान बॉक्सिंग फेडरेशन ऑफ

इंडिया के अध्यक्ष अजय सिंह भी मौजूद थे। इस मामले पर उन्होंने कहा कि मैरीकॉम आदर्श बॉक्सर हैं। जोश

कभी-कभी ऐसा हो जाता है। मामले को तूल देना नहीं चाहिए।

अगले साल वुहान में होंगे ओलिंपिक क्वालीफायर मुकाबले

टोक्यो ओलिंपिक के लिए क्वालीफायर मुकाबले चीन के वुहान में 3 से 14 फरवरी तक खेले जाएंगे। मैरीकॉम 6

बार वल्र्ड चैम्पियनशिप जीत चुकी हैं। उन्होंने लंदन ओलिंपिक 2012 में कांस्य पदक अपने नाम किया था। वहीं,

निखत इस साल एशियन चैम्पियनशिप में कांस्य पदक जीती थीं।

सोनिया लाठेर और सरिता देवी हारीं

अन्य मुकाबलों में वल्र्ड चैम्पियनशिप में दो रजत पदक जीतने वाली सोनिया लाठेर (57 किग्रा) को साक्षी चौधरी ने

शिकस्त दी। लाठेर एशियन गेम्स में भी पदक जीत चुकी हैं। 60 किग्रा भारवर्ग में पूर्व वल्र्ड चैम्पियन सरिता देवी

नेशनल चैम्पियन सिमरनजीत कौर से हार गईं।

निखत ने मैरीकॉम से ट्रायल का दावा ठोका था

मैरीकॉम इस साल वल्र्ड चैम्पियनशिप में कांस्य पदक जीती थीं। उन्हें इसी के आधार पर ओलिंपिक क्वॉलिफायर्स में

भेजने की बात चल रही थी। हालांकि, नियमों के मुताबिक वल्र्ड चैम्पियनशिप में स्वर्ण या रजत पदक जीतने वाले

बॉक्सर को ही ओलिंपिक क्वालिफायर में सीधे एंट्री मिलती है। अन्य सभी को ट्रायल मैच खेलना होता है। निखत ने

नियमों का हवाला देकर मैरीकॉम से मुकाबले की बात कही थी।

निखत ने ट्रायल के लिए खेल मंत्री को पत्र लिखा था

निखत ने ट्रायल के लिए खेल मंत्री किरण रिजिजू को भी पत्र लिखा था। तब उन्होंने कहा था, ”मैं बचपन से ही मैरीकॉम

से प्रेरित रही हूं। इस प्रेरणा के साथ न्याय करने का सबसे बेहतर तरीका यही हो सकता है कि मैं उनकी तरह एक महान

मुक्केबाज बनने की कोशिश करूं। क्या मैरी कॉम खेल की इतनी बड़ी शख्सियत हैं कि उन्हें मुकाबले से दूर रखने की

जरूरत है।

 

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें 

Facebook पर Like करें, Twitter पर Follow करें  और Youtube  पर हमें subscribe करें।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -CG Health - Purush Nasbandi Pakwada

R.O :- 11660/ 5

Chhattisgarh Clean State

R.O :- 11664/78





Most Popular