सीएम राजधानी के बजाए पहुंचे लखनऊ, पूछा कृषि मंत्री का हाल

रायपुर। लोकसभा चुनाव में कांग्रेस का प्रचार करने उत्तरप्रदेश पहुंचे छत्तीसगढ़ के कृषि मंत्री रविंद्र चौबे को शुक्रवार देररात को दिल का दौरा पड़ा है। उन्हें शनिवार को पहले लखनऊ के सहारा अस्पताल और बाद में संजय गांधी पीजीआई में भर्ती कराया गया, जहां उनकी हालत स्थिर बनी हुई है। इसे देखते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रायपुर लौटना टाला। तय कार्यक्रम के मुताबिक मुख्यमंत्री श्री बघेल को शनिवार शाम रांची से रायपुर पहुंचना था। मंत्री रविंद्र चौबे की हालत को देखते हुए उन्होंने कार्यक्रम बदल दिया। वे रात में रांची से लखनऊ पहुंचे। पीजीआई अस्पताल पहुंचकर उन्होंने कृषि मंत्री का हाल जाना।  

मुख्यमंत्री ने खुलाया होटल का दरवाजा :

नगरीय प्रशासन मंत्री शिव डहरिया ने बताया कि रविंद्र चौबे शुक्रवार को दिनभर चुनाव प्रचार में थे। उन्होंने यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी के संसदीय क्षेत्र रायबरेली की कई सभाओं में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के साथ शामिल हुए। रात को सभी लोग लखनऊ लौटे। देररात श्री चौबे की तबीयत बिगड़ी, उनको उल्टी हुई। मिली जानकारी के अनुसार शनिवार सुबह जब वे नाश्ता करने नहीं पहुंचे, तो सभी को उनकी चिंता हुई। उनका इंतजार कर रहे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने उनके मोबाइल फोन पर कॉल किया। कई बार पूरी घंटी बजने के बाद भी फोन नहीं उठा तो मुख्यमंत्री ने होटल प्रबंधन से कहकर दरवाजा खुलवाया। जब सभी लोग भीतर पहुंचे तो चौबे बिस्तर पर बेहोश पड़े हुए थे।

हालत में सुधार के बाद पीजीआई अस्पताल में भर्ती :

आनन-फानन में उन्हें सबसे नजदीक सहारा अस्पताल में भर्ती कराया गया। इस दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, मंत्रीद्वय कवासी लखमा व शिव डहरिया, मुख्यमंत्री के सलाहकार विनोद वर्मा, प्रदीप शर्मा और बिलासपुर विधायक शैलेष पाण्डेय उनके साथ थे। बाद में मुख्यमंत्री चुनाव प्रचार के लिए झारखंड रवाना हो गए। बताया जा रहा है कि मुख्यमंत्री ने उन्हें एयर एम्बुलेंस से गुडग़ांव के मेदांता अस्पताल ले जाने का निर्देश दिए थे। लेकिन उनका इलाज कर रहे डॉक्टरों ने खतरे को देखते हुए एयर एम्बुलेंस से ले जाने की इजाजत नहीं दी। हालत सुधरने के बाद उन्हें लखनऊ के ही संजय गांधी पीजीआई में भर्ती कराया गया।  

विशेष विमान से लखनऊ गए परिजन :

रविंद्र चौबे की तबीयत बिगड़ने की जानकारी उनके परिजनों को सुबह दी गई। जिस विमान से मुख्यमंत्री लखनऊ गए थे, उसे दोपहर को रायपुर भेजा गया। जिसमें मंत्री के परिजन उस विशेष विमान से लखनऊ पहुंचे। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने चौबे के पुत्र अविनाश से फोन पर बात की।  

साजा से रायपुर तक चला प्रार्थनाओं का दौर :

रविंद्र चौबे की तबीयत बिगडऩे की जानकारी मिलते ही उनके गृहक्षेत्र बेमेतरा जिले के साजा से राजधानी रायपुर तक प्रार्थनाओं का दौर शुरू हो गया। विधानसभा अध्यक्ष चरणदास महंत ने उनके स्वस्थ होने की कामना की, उनके परिजनों और डॉक्टरों से बातकर हाल जाना। मंत्रिमंडल के सदस्य टी.एस. सिंहदेव, उमेश पटेल, ताम्रध्वज साहू समेत विधायकों ने प्रार्थना की। पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह, भाजपा की राष्ट्रीय महामंत्री सरोज पाण्डेय, नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष विक्रम उसेंडी, विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष गौरीशंकर अग्रवाल, पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल, प्रेमप्रकाश पांडेय, राजेश मूणत, अजय चंद्राकर, लाभचंद बाफना आदि ने भी उनके शीघ्र सेहतमंद होने की कामना की है।     Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें  Facebook पर Like करें, Twitter पर Follow करें  और Youtube  पर हमें subscribe करें।
Back to top button