रायपुर। भेंट-मुलाकात कार्यक्रम के तहत सीएम भूपेश बघेल ने जांजगीर जिले से विदा होने से पूर्व जिले के प्रमुख अधिकारियों की समीक्षा बैठक ली। अधिकारियों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि भेंट-मुलाकात कार्यक्रम का उद्देश्य यह देखना है कि लोगों को योजनाओं का लाभ मिले। 

भूपेश बघेल ने कहा कि शिक्षा गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देने की जरुरत है, कल ही शिकायत पर एक प्राचार्य पर अनुशासनात्मक कार्यवाही की गई है, ऐसी स्थिति नही होनी चाहिए। स्कूलों में पढ़ाई अच्छे से होनी चाहिए। शिक्षक समय से स्कूल पहुंचे और पूरे समय तक स्कूल में रहें। इसकी नियमित मॉनिटरिंग करें। अधिकारी इसका औचक निरीक्षण करें, जो शिक्षक बिना सूचना के अनुपस्थित हैं, उन पर अनुशासनात्मक कार्यवाही करें।

मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि सड़कों के मरम्मत और पैच रिपेयर में गुणवत्ता का विशेष ध्यान दें, जिससे सड़कें लंबे समय तक चलें।

मुख्यालय में निवास करें अधिकारी

मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि अधिकारी अच्छे से कार्य करें, जो जिम्मेदारी दी गई है उसका पूरा निर्वहन करें। शासकीय कार्यों को लेकर आने वाले किसान, आवेदक आएं तो समय से उनको उनका समाधान मिले। वे निराश होकर न जाएं। सभी अधिकारी-कर्मचारियों अपने मुख्यालय में अनिवार्य रूप से निवास करें।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर