अमेरिका के कैपिटल परिसर में जारी खींचतान के बीच 4 की मौत, कई लोग हुए घायल

वाशिंगटन। अमेरिका में चुनावी नतीजे के बाद नतीजों को लेकर कैपिटल परिसर में जारी खींचतान के बीच अब तक चार लोगों की मौत हो गई है। साथ ही बताया जा रहा है कि कई लोग घायल हो गए हैं।

दरअसल अमेरिकी कैपिटल बिल्डिंग में वोटों की गिनती के दौरान अमेरिका के निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के हजारों समर्थक सुरक्षा व्यवस्था को ध्वस्त करते हुए अमेरिकी कैपिटल में घुस गए और पुलिस के साथ खींचतान किया। पुलिस को इन प्रदर्शनकारियों को काबू करने में काफी मश्क्कत का सामना करना पड़ा।

इस घटना के बाद नए राष्ट्रपति के रूप में जो बाइडन के नाम पर मोहर लगाने की संवैधानिक प्रक्रिया बाधित हो गई है।

वाशिंगटन डीसी पुलिस के मुताबिक, घटना के दौरान एक महिला को पुलिस ने गोली मारी है, जबकि तीन की गंभीर हालत में मौत हुई है। इन हालात में प्रतिनिध सभा और सीनेट तथा पूरे कैपटोल को बंद कर दिया गया। उपराष्ट्रपति माइक पेंस और सांसदों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया। साथ ही राष्ट्रीय राजधानी में कर्फ्यू लगा दिया गया।

देश के प्रधानमंत्री ने कहीं ये बात

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अमेरिका के निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों और पुलिस के बीच हिंसक झड़प पर बृहस्पतिवार को चिंता व्यक्त की और कहा कि सत्ता का हस्तांतरण शांतिपूर्ण तरीके से होना चाहिए।

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर कहा, ‘वाशिंगटन डीसी में हिंसा और दंगे की खबरों से चिंतित हूं। सत्ता का सुव्यवस्थित और शांतिपूर्ण हस्तांतरण जारी रहना चाहिए। लोकतांत्रिक प्रक्रिया को गैरकानूनी प्रदर्शनों के जरिए बदलने की अनुमति नहीं दी जा सकती।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे फेसबुक, ट्विटरटेलीग्राम और वॉट्सएप पर…