Monday, November 29, 2021
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeTop Storiesएक और फर्जी मैरिज ब्यूरो का भंडाफोड़, महिलाओं की आवाज निकाल कर...

एक और फर्जी मैरिज ब्यूरो का भंडाफोड़, महिलाओं की आवाज निकाल कर लोगो को बनाता था बेवकूफ

spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

रायगढ़। बिलासपुर के बाद अब रायगढ़ में एक फर्जी मैरिज ब्यूरो का खुलासा हुआ है। इसके संचालक ने यहां के कार्यालय को बंद कर अब बिलासपुर में भी यही फर्जीवाड़ा शुरू कर दिया था, मगर गुरूग्राम हरियाणा के एक व्यक्ति की शिकायत पर रायगढ़ की पुलिस ने उसे धर दबोचा।

पुलिस के मुताबिक गुरूग्राम हरियाणा के एक व्यक्ति के साथ मैरिज ब्यूरो के संचालक द्वारा धोखाधड़ी कर हजारों रूपये अपने खाते में ट्रांसफर कराने की शिकायत पुलिस मुख्यालय, नवा रायपुर से पुलिस अधीक्षक, रायगढ़ को प्राप्त हुआ, जिसे जांच के लिये रायगढ़ के थाना प्रभारी कोतवाली को भेजा गया। यह घटना वर्ष 2019 की है, उस समय मैरिज ब्यूरो का संचालन कोतरारोड़, सावित्रीनगर में हो रहा था। पुलिस ने आवेदन के आधार पर मैरिज ब्यूरो के संचालक के विरूद्ध FIR दर्ज किया और जाँच शुरू की।

झांसा देकर किश्तों में मंगाए रूपये

पीड़ित के शिकायत पत्र के मुताबिक उसने समाचार पत्र के मेट्रोमोनियल के विज्ञापन पर दिये गए मोबाईल नम्बरों से सम्पर्क किया। तब उससे भावना नाम की महिला ने बात की, जिसने उसकी पसंद का जीवन साथी मुहैया करा देने की बात कही। भावना ने रजिस्ट्रेशन के नाम पर फीस 2000 रू खाते में जमा कराया। इसके बाद करूणा दुबे नामक किसी पढी लिखी नौकरी वाली महिला का हवाला देकर उससे बात कराइ गई। करूणा दुबे ने खुद को बेवा तथा बगैर बाल बच्चे वाली बताया और उसने रोज कॉल कर जल्द शादी कर लेंगे, कहकर पीड़ित को फंसाये रखा। इस दौरान करूणा दुबे किसी न किसी बहाने से पीड़ित से रूपये अपने खाते में डालने को कहती। पीड़ित उसके झांसे में आकर उसके खाते में किश्तों में 5 हजार, 10 हजार, 25 हजार रूपये ट्रांसफर कर चुका था ।

एक्सीडेंट का बहाना बनाकर मांगे 03 लाख रूपये

एक बार महिला ने अपनी बहन और भांजी का एक्सीडेंट हो जाने पर ईलाज के लिये पीड़ित से तीन लाख रूपये मांगे, तब उसने रूपये की व्यवस्था नहीं हो पाना बताया, जिसके बाद करूणा दुबे ने अपना मोबाईल नंबर बंद कर दिया। जांच पर पाया गया कि आरोपी जीतू महानंदा नामक व्यक्ति पहले रायगढ़ में कोतरारोड़ में मैरिज ब्यूरो का संचालन करता था, जिसके बाद वह बिलासपुर चला गया और वहां भी उसने एक मैरिज ब्यूरो खोल रखा था, लॉकडाउन के बाद से आफिस लंबे समय से बंद है ।

अलग-अलग नाम से खुद ही करता था फोन

मामले की जाँच में लगी कोतवाली पुलिस ने आरोपी जीतू महानंद के बैंक अकाउंट के डिटेल निकालकर उस तक जा पहुंची और फिर उसे हिरासत में लेकर रायगढ़ लाया गया ।

मूलतः उड़ीसा निवासी जीतू महानंदा ने स्वीकार किया कि कोतरारोड़, रायगढ़ में मैरिज ब्यूरो आफिस से गुरूग्राम हरियाणा के व्यक्ति की शादी कराने के नाम से अपने एकाउन्ट में पैसा मंगाया। वह अज्ञात महिलाओं की तस्वीरें दिखाकर अलग-अलग महिला कभी भावना, कभी करूणा दूबे, कभी सिमरन सिंह और कभी गोपी शर्मा बनकर महिलाओं की आवाज बदल बदल कर लोगों से बात करता था।

पुलिस ने जाँच के बाद आरोपी जीतू को गिरफ्तार कर रिमांड पर जेल भेज दिया है। गौरतलब है कि इससे पूर्व बिलासपुर की पुलिस ने एक फर्जी मैरिज ब्यूरो की आड़ में 72 वर्षीय बुजुर्ग से 01 लाख 20 हजार रूपये की ठगी करने वाले गिरोह का भंडाफोड़ किया था। ऐसे ही कई फर्जी गिरोह देश भर में संचालित हो रहे हैं जिनकी ठगी का शिकार लोग बन रहे हैं।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएपपर

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -Chhattisgarh  Adivasi Mahotsav & Rajoytsav

R.O :- 11641/ 58





Most Popular