कोरोना काल में नवरात्रि पर्व को लेकर गाइडलाइन जारी, मूर्ति की ऊंचाई एवं चौड़ाई 6×5 फीट से अधिक नहीं, जानें दिशा-निर्देशों के बारे में विस्तार से

टीआरपी डेस्क। छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में कोरोना वायरस के बढ़ते संकमण के बीच नवरात्र पर्व में दुर्गा पूजा के मद्देनजर जिला प्रशासन ने दिशा-निर्देश जारी किया है। जारी गाइडलाइन में आकार से लेकर मूर्ति स्थापना और विसर्जन के साथ पंडाल की जगह, श्रद्धालुओं के लिए व्यवस्था के साथ अन्य संबंधित विषयों को शामिल किया गया है।

जिला प्रशासन की ओर से जारी निर्देश में मूर्ति की ऊंचाई एवं चौड़ाई 6×5 फीट से अधिक नहीं होने, मूर्ति स्थापना वाले पंडाल का आकार 15×15 फीट से अधिक नहीं होने, पंडाल के सामने कम से कम 3000 वर्ग फीट की खुली जगह में कोई भी सड़क अथवा गली का हिस्सा प्रभावित न होने, एक पंडाल से दूसरे पंडाल की दूरी 250 मीटर से कम नहीं होने, मंडप पंडाल के सामने दर्शकों के बैठने हेतु पृथक से पंडाल नहीं होने की बात कही गई है।

इसके अलावा पंडाल में 20 से अधिक व्यक्ति प्रवेश नहीं कर सकेंगे। मूर्ति स्थापित करने वाले व्यक्ति अथवा समिति 4 सीसीटीवी कैमरा लगाएंगे। मूर्ति दर्शन अथवा पूजा में शामिल होने वाला कोई भी व्यक्ति बिना मास्क के प्रवेश नहीं करेंगे। मूर्ति स्थापित करने वाले व्यक्ति के द्वारा सेनिटाइजर, थर्मल स्क्रीनिंग, ऑक्सीमीटर, हैंडवाश क्यू मैनेजमेंट सिस्टम की व्यवस्था की जाएगी। इसके अलावा अन्य व्यवस्थाओं को लेकर भी निर्देश जारी किए गए हैं।

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Twitter पर Follow करें और Youtube  पर हमें subscribe करें। एक ही क्लिक में पढ़ें  The Rural Press की सारी खबरें।