महिला समूह के बनाए गए उत्पादों को देख खुश हुए मंत्री लखमा, थपथपाई जिला प्रशासन की पीठ

रितुराज पवार/धमतरी। प्रदेश के आबकारी मंत्री कवासी लखमा शुक्रवार को धमतरी जिले के दौरे पर थे, यहां उन्होंने जिला प्रशासन की पहल पर महिला स्व सहायता समूहों व्दारा निर्मित किए गए उत्पादों का शुभारंभ किया। आबकारी मंत्री ने महिला समूहों की महिलाओं से मुलाकात कर उत्पादों की जानकारी ली। लखमा ने इस काम के लिए महिलाओं की तारीफ करते हुए कहा कि उनकी सरकार पूंजीपतियों के साथ नहीं बल्कि आम और गरीब के साथ है।

दरअसल जिला प्रशासन की पहल पर महिला स्व सहायता समूह की महिलाएं अब अपने पैरों पर खड़ी होकर आत्मनिर्भर बन रही हैं। विभिन्न स्व सहायता समूह की महिलाओं को छाती स्थित डोम सहित अन्य जगहों मे रोजगार मुहैया कराया जा रहा है। जहां महिलाएं अपने हुनर के मुताबिक अलग.अलग काम कर रही हैं। महिलाएं यहां बांस और गोबर से राखी बना रही हैं। इसी तरह बांस से ट्री गार्ड सहित पेपर बैग्स और हर्बल लेमन टी का भी निर्माण कर रही हैं।

जिला प्रशासन ने मंत्री को अवगत कराया कि समूह की 165 महिलाओं के द्वारा आॅर्डर के आधार पर अब तक 15 हजार से अधिक राखियां तैयार की जा चुकी हैं, जिन्हें बांस, गोबर सहित क्रोशिया के आकर्षक सहित रंग-बिरंगे धागों से तैयार किया गया है। इसी तरह समूहों के द्वारा 1960 नग ज्वेलरी सेट और 15 महिलाओं के द्वारा अब तक 89 किलो लेमन ग्रास टी का उत्पादन किया जा चुका है। इसके अलावा वर्तमान में जिले में वृहत् प्लांटेशन को ध्यान में रखते हुए समूह की 40 महिलाओं के माध्यम से अब तक 2300 नग बांस के ट्री-गाॅर्ड तैयार किए जा चुके है। इस पर प्रभारी मंत्री ने उनके कार्यों की सराहना की।

बहरहाल जिले के प्रभारी मंत्री कवासी लखमा ने महिलाओ व्दारा निर्मित सामानों का उद्घाटन के साथ साथ ही पूरे डोम का निरीक्षण कर महिलाओं की ना सिर्फ हौसला आफजाई बल्कि इस पहल के लिए जिला प्रशासन की पीठ भी थपथपाई।