Monday, November 29, 2021
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
Homeक्राइममां - बेटे ने लोन के नाम पर महिलाओं को लगाया लाखों...

मां – बेटे ने लोन के नाम पर महिलाओं को लगाया लाखों का चूना, हैदराबाद से किये गए गिरफ्तार

spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

जशपुर। इस शातिर महिला ने चौपहिया वाहन से गांव-गांव घूम-घूमकर गरीब, कमजोर एवं मजदूर महिलाओं को आगे बढ़ाने के नाम पर लोन दिलाया और रूपये समेटकर निकल भागी। इसका खुलासा तब हुआ जब महिलाओं को बैंक से लोन पटाने के लिए नोटिस मिला। पीड़ितों की शिकायत पर पुलिस ने इस महिला को उसके बेटे के साथ हैदराबाद से गिरफ्तार किया है।

महिला सशक्तिकरण के नाम पर बनाया बेवकूफ

जशपुर जिले के ग्राम सोगड़ा निवासी अनिशा बाई एवं अन्य महिलाओं ने पिछले महीने ही सिटी कोतवाली में यह शिकायत दर्ज कराई कि वर्ष 2018-19 में इनके गांव सोगड़ा में महिला सुमित्रा नायक एवं उसका पुत्र अविनाश नायक निवासी लोखण्डी आये उनसे संपर्क कर कहा कि- मैं महिला सशक्तिकरण से जुड़ी हूं, और गरीब कमजोर एवं मजदूर महिलाओं को आगे बढ़ाने के लिये सिलाई-कढ़ाई का प्रशिक्षण देकर अनुदान राशि दिलवाऊंगी, साथ ही सभी को सिलाई मशीन दिलवाऊंगी। मेरे द्वारा सैंकड़ों महिलाओं को अनुदान राशि दिलवाया गया है।

स्टाम्प पेपर देकर भरोसा जीता

सुमित्रा नायक द्वारा विश्वास दिलाने हेतु अपने घर से पर्चा-पट्टा एवं 50 रू. का भारतीय गैर न्यायिक स्टांप पेपर आवेदकों को दिया गया। जिसके चलते सुमित्रा की बातों पर विश्वास कर प्रार्थिया एवं अन्य 09 अन्य महिला हितग्राहियों ने अपने नाम से बेल स्टॉर बैंक एवं उत्कर्ष बैंक के कुछ कागजों पर सुमित्रा नायक के कहने पर हस्ताक्षर कर दिया।
सुमित्रा नायक इन महिलाओ को लेकर दो बार बैंक गई, और लोन की सारी औपचारिकता पूरी करके इनमे से किसी को 70 हजार तो किसी को 55 हजार नगद लोन दिलवाया। यह वाकया 2020 के सितंबर माह और वर्ष 2021 के जनवरी माह का है। बैंक से बाहर निकलते ही सुमित्रा नायक इन महिलाओ से रूपये ले लेती और यह आश्वस्त करती कि तुम सभी के अनुदान की राशि एक साथ बाद में दे दूंगी और बैंक का किस्त भी पटा दूंगी, तुम सभी को बैंक में भी जाने की जरुरत नहीं है, कहकर वह अपने बेटे के साथ 6 लाख रूपये समेट कर चली गई।

न तो अनुदान राशि मिली और न ही सिलाई मशीन

इस दौरान पीड़ित महिलाओं को न तो अनुदान राशि मिली और न ही सिलाई मशीन। उलटे इन्हें इस वर्ष सितंबर के महीने में बैंक से राशि पटाये जाने के संबंध में नोटिस मिल गया। पुलिस ने शिकायत के आधार पर मामले में धारा 420 के तहत सुमित्रा नायक और उसके बेटे अविनाश के खिलाफ जुर्म दर्ज किया।


खुद के नाम पर भी लिया था लोन

जांच में पता चला कि जशपुर में रहते हुये सुमित्रा नायक ने 04 अलग-अलग वित्तीय संस्थाओं से स्वयं के नाम पर लोन लिया था। FIR के बाद पुलिस ने खोजबीन शुरू की और मुखबीर की सूचना तथा सायबर सेल की मदद से हैदराबाद जाकर सुमित्रा नायक निवासी पोरतेंगा थाना जशपुर और उसके बेटे अविनाश को गिरफ्तार कर लिया गया। जशपुर लेकर इनसे ओमनी कार, स्कूटी, और सिलाई मशीने जब्त की गयी, साथ ही अन्य सामग्रियों की जब्ती के लिए इन्हे रिमांड पर लिया गया।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर

RELATED ARTICLES
- Advertisment -CG Health - Purush Nasbandi Pakwada

R.O :- 11660/ 5





Most Popular