ब्रेकिंग: रेमडेसिवीर की कालाबाजारी हुई तो सीधे जेल, अस्पतालों के स्टॉक की प्रतिदिन ऑडिट करेंगे नोडल अधिकारी

ब्रेकिंगः 40-40 हजार में रेमडेसिविर बेच रहा था देश का ये नामी डॉक्टर, 36 लाख कैश बरामद
ब्रेकिंगः 40-40 हजार में रेमडेसिविर बेच रहा था देश का ये नामी डॉक्टर, 36 लाख कैश बरामद

दुर्ग। कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने आज अधिकारियों को कड़े निर्देश जारी किए हैं कि रेमडेसिवीर की कालाबाजारी का कोई भी मामला संज्ञान में आए तो संबंधित व्यक्ति को सीधे जेल भेजने की कार्रवाई की जाए।

रेमडेसिवीर की पर्ची लिखकर न दें डॉक्टर

कलेक्टर ने अस्पताल प्रबंधकों को निर्देश दिए हैं कि मरीजों के परिजनों को वर्तमान में उपलब्ध नहीं होने की वजह से मेडिकल स्टोर्स के लिए रेमडेसिवीर की पर्ची लिखकर ना दें। उपलब्ध होते ही इसकी सूचना जारी कर दी जाएगी। अस्पतालों को जितना स्टॉक उपयोग के लिए दिया गया है उसका उपयोग करें। स्टॉक की कालाबाजारी होने की किसी भी प्रकार की सूचना मिलने पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी तथा ऐसी जानकारी मिलने पर सीधे जेल भेजने की कार्रवाई की जाएगी।

स्टॉक की हर दिन होगी जांच

नोडल अधिकारी हर दिन अस्पताल में इस दवा के स्टॉक की ऑडिट करेंगे, किसी भी तरह की अनियमितता मिलने पर सूचना देंगे और ऐसा पाए जाने पर सीधे जेल भेजने की कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि स्टॉक विक्रय के लिए उपलब्ध होने पर इसकी सूचना नागरिकों को दी जाएगी अतः नागरिक बाजार में रेमडेसिवीर दवा खरीदने ना पहुंचे।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे फेसबुक, ट्विटरटेलीग्राम और वॉट्सएप