इस राज्य में थूकने पर होगी जेल,कोरोना वॉरियर्स की हुई मौत तो देंगे 50 लाख

टीआरपी डेस्क। राजस्थान के जयपुर में एक पुलिसकर्मी स्वास्थ्य विभाग की टीम की मदद में तैनात था वह टीम कोरोना वायरस (Coronavirus) को लेकर डोर-टू-डोर सर्वे कर रही थी। जांच में पुलिसकर्मी कोरोना पॉजिटिव पाया गया। उसका इलाज चल रहा है। इस मामले के सामने आने के बाद राजस्थान सरकार ने कोरोना वायरस को लेकर बड़ा ऐलान किया है. सरकार ने घोषणा की है कि अगर इस बीमारी की वजह से किसी भी कोरोना वॉरियर की मौत होती है, चाहें वह परमानेंट सरकारी कर्मचारी हो या संविदा पर हो, तो उनके परिवार को 50 लाख रुपये का मुआवजा दिया जाएगा। जयपुर में कोरोना को लेकर डोर-टू-डोर सर्वे किया जा रहा है राज्य में वहीं सबसे ज्यादा मामले सामने आए हैं

राजस्थान सरकार ने अब सार्वजनिक जगहों पर थूकने पर बैन लगा दिया है मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बताया कि अगर कोई व्यक्ति पब्लिक प्लेस में थूकते हुए पाया गया तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी संबंधित व्यक्ति को आईपीसी की धारा 188 के तहत गिरफ्तार किया जा सकता है। और उसे एक महीने की जेल हो सकती है या फिर 200 रुपये का जुर्माना वसूला जा सकता है

गौरतलब है कि देश में कोरोनावायरस ने शुरूआत में जिन राज्यों में सबसे पहले दस्तक दी थी, राजस्थान उनमें से एक है. राज्य में कोरोना के अब तक 561 मामले सामने आ चुके हैं सिर्फ जयपुर में ही 221 कोरोना संक्रमित सामने आए हैं संख्या के लिहाज से यह कोरोना संक्रमितों की संख्या वाला देश का चौथा राज्य है. सबसे ज्यादा मामले महाराष्ट्र में सामने आए हैं

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें 

Facebook पर Like करें, Twitter पर Follow करें  और Youtube  पर हमें subscribe करें।