साइड इफेक्टः देश-प्रदेश में लॉकडाउन, पर इन लोगों का बिजनेस धड़ल्ले से चालू, 11 लाख रुपए के साथ धरे गए 13 जुआरी

पुलिस को देखकर एक जुआरी छत से कूदा

रायपुर। पूरे देश-प्रदेश में 21 दिनों लॉकडाउन जारी, पर कुछ ऐसे भी लोग हैं, जिनका बिजनेस धड़ल्ले से चालू है। प्रदेशभर में लॉकडाउन में जहां सड़के, शहर, गाँव वीरान हो गए हैं, तो वहीं इस सन्नाटे का फायदा उठाकर राजधानी में अब जुआरी सक्रिय हो गए हैं।

पुलिस ने राजधानी में 11 लाख रुपए के साथ 13 जुआरियों को गिरफ्तार किया है। वहीं एक जुआरी पुलिस को देखकर छत से ही कूद दिया, जिसे अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है।

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक बीती रात शंकरनगर चौपाटी स्थित हिमांशु चक्रवर्ती अपने मकान में जुआ खिला रहा था। सिविल लाइन पुलिस को इसकी सूचना मुखबिर से मिली।

सूचना मिलने के बाद पुलिस देर रात मौके पर पहुंची तो जुआ खेल रहे जुआरी भागने की कोशिश करने लगे। इनमें से एक जुआरी डीडी नगर निवासी धनंजय सिंह एक मंजिला छत से कूद गया।

पुलिस ने घायल जुआरी को रात में ही अस्पताल में भर्ती कराया। बाकी सभी जुआरियों को गिरफ्तार कर सिविल लाइन थाने लाया गया है।

अमूमन ऐसे मामलों में पुलिस जिस तरह जुआ एक्ट का इस्तेमाल करती है, वह मुचलका का मसला होता है, जिससे सभी आसानी से छूट जाते हैं। लेकिन इस बार गूगली हो गई है।

पुलिस में धारा 144 के उल्लंघन के साथ-साथ महामारी एक्ट भी जोड़ दिया है। ज़ाहिर है अब मसला ज़मानती नहीं रहा हैं।

पकड़े गए जुआरियों में हिमांशु चक्रवर्ती, आशीष प्रसद, राकेश डोंगरे, तरनीज सलूजा, अनिल शुक्ला, सुनील शुक्ल, राम गुप्ता, संजय कुकरेजा, मनोहर सिंधी, दिनेश मोटवानी, सिद्धार्थ कल्याणी, मो. नावेद और तरुण नानवानी शामिल है। पकड़े गए आरोपियों के पास से करीब 11 लाख नगदी भी जब्त की गई है।

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें 

Facebook पर Like करें, Twitter पर Follow करें  और Youtube  पर हमें subscribe करें।