कलिंगा विश्वविद्यालय के राष्ट्रीय संगोष्ठी में शामिल हुए कला एवं मानविकी संकाय के छात्र

नया रायपुर। मध्य भारत के प्रतिष्ठित शैक्षणिक संस्थान कलिंगा विश्वविद्यालय में पत्रकारिता एवं जनसंचार के क्षेत्र में रोेजगार के अवसर विषय पर आयोजित राष्ट्रीय संगोष्ठी में कला एवं मानविकी संकाय के छात्र शामिल हुए।

बता दें कि कोरोना महामारी के प्रकोप के कारण शासन के निर्देशानुसार कलिंगा विश्वविद्यालय में पढ़ाई के साथ अन्य सभी कार्यक्रम आनलाइन कराए जा रहे हैं। इसी कड़ी में वेबनार के माध्यम से राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन किया गया। संगोष्ठी का शुभारंभ मॉ सरस्वती के चित्र के सामने दीप प्रज्जवलन कर सरस्वती वंदना के साथ किया गया।

पत्रकारिता एवं जनसंचार के क्षेत्र में रोेजगार के अवसर विषय पर आयोजित इस राष्ट्रीय संगोष्ठी में मुख्य वक्ता के रूप में प्रतिष्ठित समाचार पत्र टाइम्स आफ इंडिया के समन्वय संपादक जोसेफ जान उपस्थित थे।

उन्होंने विश्वविद्यालय के छात्रों को पत्रकारिता एवं जनसंचार के क्षेत्र में रोेजगार के अवसर विषय पर विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि आज भारतवर्ष में हजारों पंजीकृत अखबार, टीवी चैनल्स और वेबसाइट हैं। वहां पर समाचार लेखन,रिपोर्टर, अनुवादक, फोटोग्राफर और वीडियो एडिटर के लिए योग्य लोगों की बहुत आवश्यकता है।

उन्होेंने छात्रों को जानकारी दी कि शासकीय एवं सार्वजनिक उपक्रम के सभी विभाग में जनसंपर्क विभाग में अनेक पद खाली हैं जहां रोजगार पाने के लिए पेशेवर लोगों की कमी है। इसलिए आज का​बिलियत के साथ साथ पत्रकारिता एवं जनसंचार विषय में डिग्री भी बहुत महत्वपूर्ण है।

आत्म संतुष्टि का भाव जागृत होता है

भारत में जर्नलिज्म और मीडिया का तेजी से​ विस्तार हो रहा है। इस क्षेत्र में रोजगार प्राप्त करने की अपार संभावनाएं हैं। यहां पर रोजगार प्राप्त करने से सिर्फ अधिक पैसा और प्रतिष्ठा ही नहीं बल्कि आत्म संतुष्टि का भाव जागृत होता है।

राष्ट्रीय संगोष्ठी में विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ आर श्रीधर, महानिर्देशक डॉ बैजू जान, कुलसचिव डॉ संदीप गांधी, छात्र कल्याण अधिष्ठाता डॉ आशा अंभईकर, कला एवं मानविकी संकाय के डॉ मणिशंकर, सुश्री अनुरिमा, डॉ वारा प्रसाद कोला के साथ डॉ अजय शुक्ला, डॉ शिल्पा भटटाचार्य, डॉ विनीता दीवान, डॉ जाय चौधरी, डॉ अनिता सामल, डॉ नम्रमा श्रीवास्तव, विजय आनंद, सुश्री अविनाश कौर, मुकेश रावत, चंदन राजपूत, सुश्री खुशबू सिंह, सुश्री मेरिटा एवं समस्त प्राध्यापक एवं छात्र उपस्थित थे।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे फेसबुक, ट्विटरटेलीग्राम और व्हाट्सप्प पर…