Tuesday, November 30, 2021
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
Homeएजुकेशननिजी स्कूलों में कल होगी तालाबंदी, बसों का टैक्स माफ़ करने और...

निजी स्कूलों में कल होगी तालाबंदी, बसों का टैक्स माफ़ करने और RTE का बकाया भुगतान करने की मांग

spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

रायपुर। छत्तीसगढ़ के 7 हजार से अधिक निजी विद्यालय कल बंद रहेंगे। प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन ने एलान किया है कि सोमवार को प्रदेश स्तर पर हड़ताल होगी और धरना-प्रदर्शन किया जाएगा।

राजधानी में बूढ़ापारा में करेंगे प्रदर्शन

स्कूलों में एक दिवसीय तालाबंदी के दौरान राजधानी के निजी शिक्षण संस्थानों के संचालक रायपुर के बूढ़ापारा के धरना स्थल पर जमा होकर सरकार के प्रति अपनी नाराजगी जाहिर करेंगे और प्रदर्शन करेंगे।

बताया जा रहा कि प्रदेश भर में निजी स्कूलों में पढ़ने वाले विद्यार्थियों की संख्या करीब 16 लाख है। स्कूल एसोसिएशन का कहना है कि सरकार लगातार हमारी मांगों की अनदेखी कर रही है। कई स्तर पर स्कूल के लोगों ने अपनी समस्याओं को सरकार के सामने रखा मगर उनकी एक नहीं सुनी गई। अब प्रदेश के संगठन ने ये फैसला लिया हैकि 25 अक्टूबर को सभी स्कूलों में ताले लगे होंगे। टीचिंग स्टाफ, नॉन टीचिंग स्टाफ सभी हड़ताल पर रहेंगे।

इस हड़ताल की प्रमुख वजह राइट टू एजुकेशन RTE के तहत प्राइवेट स्कूलों को मिलने वाला पैसा है। पिछले कई महीने से करीब 106 करोड़ रुपए सभी स्कूलों के बकाया है, जो सरकार ने अब तक नहीं दिए हैं।

ये हैं प्रमुख मांगें

निजी स्कूल संचालकों की मांग है कि विद्यालयों के 2020 -2021 का RTE के बकाया का भुगतान किया जाये। कोरोना काल में 16 महीनों तक स्कूल बसों का संचालन बंद रहा, इसलिए अप्रैल 2020 से जुलाई 2021 (16 महीने) तक प्रदेश की सभी स्कूल बसों का रोड टैक्स माफ किया जाए।
नवीन मान्यता, मान्यता नवीनीकरण पर स्कूल शिक्षा विभाग के ढीलेढाले रवैये को दुरुस्त किया जाये क्योंकि पूरे प्रदेश में मान्यता की प्रक्रिया 2 से 3 वर्ष विलंब से चल रही है।
स्कूल संचालकों की शिकायत है कि जब से कोरोना संक्रमण के दौरान प्रदेश के सभी अशासकीय विद्यालयों का स्कूल शिक्षा विभाग ने निरीक्षण कराया, तब से अलग-अलग जिलों में कमियां बता कर अशासकीय विद्यालयों को परेशान किया जा रहा है।
वहीं दूसरी ओर शिक्षा विभाग के RTE सेक्शन से पता चला है कि निजी स्कूलों के RTE के बकाया भुगतान की प्रक्रिया चल रही है, जल्द ही संचालकों को इसका भुगतान मिलने लगेगा।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्राम और वॉट्सएप पर.

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -CG Health - Purush Nasbandi Pakwada

R.O :- 11660/ 5





Most Popular