Home TRP News टीआरपी टॉप-10, आज की सुर्खियां

टीआरपी टॉप-10, आज की सुर्खियां

237
0
टीआरपी टॉप-10, आज की सुर्खियां

1.मध्य प्रदेश कैबिनेट का विस्तार आज, शिवराज सरकार में शामिल हो सकते हैं करीब 24 मंत्री

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान गुरुवार 2 जुलाई को अपने मंत्रिमंडल का विस्तार करेंगे। आधिकारिक जानकारी के अनुसार मध्य प्रदेश की प्रभारी राज्यपाल आनंदीबेन पटेल सुबह 11 बजे यहां राजभवन में एक सादे समारोह में मंत्रिमंडल के नए मंत्रियों को शपथ दिलाएंगी। यह चौहान के मंत्रिमंडल की पहला विस्तार होगा और इसमें करीब दो दर्जन मंत्रियों को शामिल किया जा सकता है।

चौहान ने 23 मार्च को अकेले मुख्यमंत्री की शपथ ली थी और कोरोना वायरस महामारी और लॉकडाउन के बीच मुख्यमंत्री चौहान ने 29 दिन तक अकेले ही सरकार चलाते रहे। बाद में 21 अप्रैल को पांच सदस्यीय मंत्रिपरिषद का गठन कर सके थे, जिनमें कांग्रेस छोड़ भाजपा में आए पूर्व केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया खेमे के दो मंत्री तुलसी सिलावट एवं गोविन्द सिंह राजपूत शामिल हैं।

2.साउदी अरब और देश के कई हिस्सों से आई थी दिल्ली दंगों के लिए फंडिंग

नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस ने अदालत में पेश प्रारंभिक जांच रिपोर्ट में कहा है कि पूर्वी दिल्ली के दंगों के लिए साउदी अरब और देश के अलग-अलग हिस्सों से मोटी रकम आई थी। पुलिस ने यह भी कहा कि ये दंगे अचानक नहीं भड़के थे, बल्कि दिल्ली में जान माल की अधिक से अधिक हानि के लिए खूब तैयारी की गई थी।

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने अदालत से आग्रह किया कि उन्हें इन दंगों की जड़ों तक पहुंचने के लिए और आरोप पत्र दाखिल करने के लिए वक्त दिया जाए। पटियाला हाउस स्थित अतिरिक्त सत्र न्यायधीश धर्मेंद्र राणा की अदालत में पुलिस की तरफ से इन दंगों के तीन महत्वपूर्ण किरदारों को लेकर अहम जानकारी दी गई थी। इनमें आम आदमी पार्टी से निलंबित निगम पार्षद ताहिर हुसैन, जामिया मिल्लिया इस्लामिया के छात्र नेता मीरान हैदर और गुलिफ्ता खातून के नाम शामिल हैं। पुलिस का कहना था कि ये तीनों मोहरा हैं जिन्हें दंगों में अधिक नुकसान पहुंचाने के लिए तैयार किया गया। जड़ तक पहुंचना बाकी है। पुलिस ने कहा कि लॉकडाउन के कारण जांच में देरी हुई है।

दिल्ली पुलिस ने अदालत में जो प्रारंभिक जांच रिपोर्ट दी है, उसके अनुसार गुलिफ्सा खातून ने सोशल साइट पर जैसे फेसबुक , ट्विटर व व्हाट्सएप पर देश के खिलाफ समुदाय विशेष को जुटाने का मोर्चा संभाला था। 21 जगहों को बहुत पहले प्रदर्शन की तैयारी कर ली गई थी।

3.भारत के बाद अमेरिका से भी लग सकता है चीन को झटका, उठी टिकटॉक बैन करने की मांग

वाशिंगटन। हाल ही में एलएसी पर चीन का बदमाशियों को देखते हुए भारत ने ड्रैगन के डिजिटल मार्केट पर वार किया और एक ही झटके में टिकटॉक समेत चीन के 59 ऐप पर पूरी तरह देश में बैन कर दिया। उधर कोरोना से त्रस्त अमेरिका भी चीन से कम ऊबा हुआ नहीं है। चीन के खिलाफ रोज नए नए बयान दे रहे अमेरिका में भी अब टिकटॉक को बैन करने की मांग उठ रही है। दरअसल भारत की तर्ज पर कुछ अमेरिकी सांसद इस बैन की मांग उठा रहे हैं। सांसदों ने अमेरिकी सरकार से कहा कि छोटे छोट वीडियो शेयर करने वाले ये ऐप देश की सुरक्षा के लिए गंभीर खतरा हैं।

गौरतलब है कि सोमवार को भारत सरकार ने 59 चाइनीज एप्स को बैन कर दिया है, जिसे चीन के खिलाफ डिजिटल सर्जिकल स्ट्राइक भी कहा जा रहा है। सरकार ने इस फैसले से जहां चीन को सख्त संदेश दिया है वहीं भारत में मोटा मुनाफा कमाते हुए यूजर्स डेटा से खिलवाड़ करने वाली कंपनियों को तगड़ा झटका दिया है। टिकटॉक जैसी एप्स के लिए भारत एक बहुत बड़ा बाजार था, जिसके सहारे बाइट डांस जैसी कंपनियां फेसबुक जैसी कंपनियों को टक्कर देने का सपना देख रही थी।

4.LAC पर जारी तनातनी के बीच रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह कल जाएंगे लद्दाख, सैन्य तैयारियों का लेंगे जायजा

नई दिल्ली। वास्तविक नियंत्रण रेखा पर चीन के साथ जारी गतिरोध के बीच रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह लद्दाख में भारत की सैन्य तैयारियों का जायजा लेने के लिए शुक्रवार को लद्दाख का दौरा करेंगे। सरकार के सूत्रों ने यह जानकारी दी है। बीते पांच मई को दोनों देशों की सेनाओं के बीच गतिरोध के बाद यह रक्षा मंत्री का पहला लद्दाख दौरा होगा, जिसमें उनके साथ सेना प्रमुख जनरल एम एम नरवणे रहेंगे।

सूत्रों ने बताया कि सिंह अपनी इस यात्रा में जनरल नरवणे, उत्तरी सैन्य कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल योगेश कुमार जोशी, 14 कोर के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल हरिंदर सिंह और अन्य वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों के साथ सुरक्षा स्थिति की व्यापक समीक्षा करेंगे।

सूत्रों ने कहा कि यात्रा का उद्देश्य क्षेत्र में चीनी सैनिकों के साथ सात सप्ताह से चल रहे गतिरोध के दौरान सैनिकों का मनोबल बढ़ाना है। सेना प्रमुख ने 23 और 24 जून को लद्दाख का दौरा किया था जिस दौरान उन्होंने वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों के साथ बैठकें की थीं और पूर्वी लद्दाख में अग्रिम क्षेत्रों का भ्रमण किया था। जनरल नरवणे ने इससे पहले 22 मई को लेह का दौरा किया था।

5.चीन के खिलाफ लगातार बढ़ रही है मोर्चेबंदी, भारत को ‘वन चाइना पॉलिसी’ पर फिर से सोचने की जरूरत

नई दिल्ली। भारत हांगकांग के मसले पर चीन के खिलाफ वैश्विक स्तर पर बन रहे माहौल को नैतिक समर्थन दे सकता है। भारत ‘वन चीन नीति’ को मान्यता देता रहा है। इसलिए आधिकारिक रूप से अभी भी भारत ने उस लकीर को नहीं मिटाया है, लेकिन दुनिया के उन देशों के साथ भारत की बेहतर आपसी समझ बन रही है जो हांगकांग के मुद्दे पर मुखर तरीके से चीन की आलोचना कर रहे हैं। सूत्रों ने कहा चीन का भारत के प्रति रुख तय करेगा कि भारत चीन को चुभने वाले मुद्दों पर कितना मुखर होगा।

सूत्रों का कहना है कि हांगकांग में चीनी उत्पीड़न, उइगर मुस्लिम समुदाय के साथ अमानवीय व्यवहार, ताइवान चीन की दुखती रग हैं। भारत में रणनीतिक मसलों के जानकार सरकार को सलाह दे रहे हैं कि अगर चीन भारत की संप्रभुता का सम्मान नहीं करता, तो भारत को भी अपनी परंपरागत ‘एक चीन नीति’ (वन चीन पॉलिसी) पर पुनर्विचार करना चाहिए।

6.दिल्ली की तरह राजधानी में 25 जगह मोहल्ला क्लीनिक, एक डॉक्टर कंपाउडर और नर्स भी रहेगी

रायपुर। दिल्ली की तर्ज पर अब राजधानी में 25 जगहों पर मोहल्ला क्लीनिक बनाए जाएंगे। अगर प्रयोग सफल रहा तो 70 वार्डों में इसी तरह मोहल्ला क्लीनिक खोले जाएंगे। प्राइवेट एजेंसी के जरिए इनका संचालन किया जाएगा। हर क्लीनिक में एक डॉक्टर कंपाउडर नर्स भी रहेगी, आम लोगों को सर्दी खांसी बुखार जैसे मामूली रोगों मेंं यहां प्राथमिक उपचार मिलेगा।

इसके अलावा मामूली चोट घाव की सूरत में मरहम पट्टी भी होगी।पहले चरण के मोहल्ला क्लीनिक के लिए 25 में से ज्यादातर जगह तय हैं। अभी सर्वे चल रहा है लेकिन बैरन बाजार, पुरानी बस्ती, तिलक नगर, त्रिमूर्ति नगर, टाटीबंध, लाभांडी, देवेंद्र नगर और भाठागांव में जगह तय कर दी गई हैं। जल्द इसके लिए टेंडर होगा।
निगम प्रबंधन ने सभी 10 जोन कमिश्नरों को निर्देश दिए हैं कि मोहल्ला क्लीनिक के लिए वे अपने इलाके में जगह तलाश कर लें, ताकि सर्वे में शामिल कर इन्हें फाइनल किया जा सके।

7.100 दिनों का रोजगार देने में देश में टॉप पर छत्तीसगढ़, 3 महिनों में 55 हजार से अधिक को मिला रोजगार

रायपुर। कोरोना की गंभीर स्थिति के बावजूद छत्तीसगढ़ इस साल मनरेगा जॉबकॉर्डधारी परिवारों को 100 दिनों का रोजगार देने में प्रदेश देश में प्रथम स्थान पर है। अप्रैल, मई और जून में कुल 55 हजार 981 परिवारों को 100 दिनों का रोजगार दिया गया है। देश में 100 दिनों का रोजगार हासिल करने वाले कुल परिवारों में अकेले छत्तीसगढ़ की हिस्सेदारी करीब 41 प्रतिशत है।


चालू वित्तीय वर्ष में लक्ष्य के विरूद्ध रोजगार सृजन के मामले में छत्तीसगढ़ देश में दूसरे स्थान पर है। शुरूआती तीन महीनों में ही यहां सालभर के लक्ष्य का 66 प्रतिशत काम पूर्ण कर लिया गया है। इस दौरान आठ करोड़ 84 लाख 50 हजार मानव दिवस रोजगार का सृजन किया गया है। ग्रामीणों को रोजगार देने में नक्सल प्रभावित जिलों ने अच्छा काम किया है। प्रदेश में लक्ष्य के विरूद्ध सर्वाधिक रोजगार देने वाले पहले पांच जिले बस्तर संभाग के हैं। प्रदेश के दस जिलों ने इस वर्ष के लिए स्वीकृत लेबर बजट का 70 प्रतिशत से अधिक काम पूर्ण कर लिया है।

8.कसडोल के दो सेंटरों से 44 मजदूर घर भागे, अफसर समझाकर वापस ले आए

कसडोल। समीपस्थ ग्राम पंचायत पिसीद के सरस्वती शिशु मंदिर के क्वारेंटाइन सेंटर के 30 मजदूरों में 21 मजदूर घर भाग गए थे जिन्हें नायब तहसीलदार श्रीधर पंडा ने किसी तरह ग्राम पंचायत झाबड़ी के क्वारेंटाइन सेंटर से 23 मजदूर घर भाग गए थे, उन्हें भी पंडा ने किसी तरह वापस सेंटर तक लेकर आए। दोनों मामलों की शिकायत कसडोल पुलिस थाने में दर्ज की गई है।


दरअसल खेती बाड़ी सिर पर है और क्वारेंटाइन मजदूर इसको लेकर चिंतित हैं। कोरोना टेस्ट न होने से उन्हें 14 दिन के निर्धारित समय से ज्यादा 25-30 दिनों तक सेंटरों में रखा जा रहा है। मजदूरों का कहना है कि टेस्ट कराकर उन्हें भी सेंटरों से मुक्त किया जाए ताकि वे खेती में न पिछड़ें वरना परिवार चलाना कठिन हो जाएगा।

9.छत्तीसगढ़ में कोरोना का आंकड़ा 3000 के करीब, अभी प्रदेश में कुल एक्टिव 623 मरीज

रायपुर। छत्तीसगढ़ में एक ही दिन में 81 नये मरीज मिले हैं। प्रदेश में कुल मरीजों की संख्या 3000 के करीब पहुंच गयी है। वहीं छत्तीसगढ़ में corona संक्रमित मरीजों की मौत का आंकड़ा 14 पहुंच गया है।


स्वास्थ्य विभाग की तरफ से जारी आंकड़ों के मुताबिक अब तक कुल 53 मरीज स्वस्थ्य होकर घर लौटे हैं। वहीं अब तक कुल 2303 मरीज स्वस्थ्य होकर घर लौट चुके हैं। अभी प्रदेश में कुल 623 मरीज हैं, जो अस्पताल में भर्ती हैं। आज कुल 81 संक्रमित मिले मरीजों में सबसे ज्यादा रायपुर से 31 मरीज मिले हैं। वहीं राजनांदगांव से 18, दंतेवाड़ा से 8, बालोद से 3, कवर्धा और कोरिया से 4-4, बिलासपुर-कांकेर से 3-3, बलौदाबाजार से 2 और नारायणपुर, बीजापुर व मुंगेली से 1-1 मरीज मिले हैं।

10.बिलासपुर-नई दिल्ली स्पेशल ट्रेन के समय में आंशिक परिवर्तन

रायपुर। गाड़ी संख्या 02442 / 02441 नई दिल्ली -बिलासपुर -नई दिल्ली राजधानी स्पेशल के समय में आंशिक परिवर्तन किया गया है। 4 जुलाई 2020 से नई दिल्ली से रवाना होने वाली राजधानी स्पेशल रायपुर स्टेशन पर 10:20 बजे के स्थान पर 10:05 बजे आकर 10:15 बजे बिलासपुर रवाना होगी। एवं 6 जुलाई 2020 से बिलासपुर से 14.40 बजे रवाना होने वाली राजधानी स्पेशल 14.00 बजे रवाना हो कर 15.30 बजे रायपुर पहुँच कर 15.40 बजे नई दिल्ली के लिए रवाना होगी।