SCO summit 2019 : आतंकवाद पर बरस रहे थे पीएम नरेंद्र मोदी, चुप्पी साधे सामने बैठे थे इमरान

बिश्केक। शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर आतंकवाद के मुद्दे को दुनिया के सामने उठाया है। बिश्केक में जारी शंघाई कॉरपोरेशन आॅर्गनाइजेशन (एससीओ) समिट में उन्होंने कहा कि सभी देशों को आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई लड़ने के लिए साथ में आना होगा और इसका सफाया करना होगा।

प्रधानमंत्री मोदी जब एससीओ के मंच पर आतंकवाद को लताड़ रहे थे तब पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान भी वहां पर मौजूद थे। प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में कई अहम मुद्दों पर बात की। तो वहीं एससीओ समिट में ऐसे कई मौके आए, जब इमरान खान और नरेंद्र मोदी का आमना -सामना हुआ, मगर पीएम मोदी ने उनकी ओर देखा तक नहीं।

आतंकवाद पर अंतरराष्ट्रीय कॉन्फ्रेंस:

पीएम मोदी ने इस दौरान सभी एससीओ सदस्यों से अपील की है कि हमें आतंकवाद के मुद्दे पर एकजुट होना होगा और आतंकवाद के मुद्दे पर ही अंतरराष्ट्रीय कॉन्फ्रेंस को बुलाना होगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस बात का जिक्र श्रीलंका और मालदीव के दौरे पर भी किया था।

श्रीलंका में हुए हमले को भी सामने रखा :

प्रधानमंत्री ने कई नेताओं के सामने कहा कि मैं बीते हफ्ते श्रीलंका की चर्च में गया था, जहां पर चर्च में आतंकियों ने हमला किया था। हम सभी को आतंक के खिलाफ एकजुट होना चाहिए। एससीओ सदस्यों को आतंकवाद का सफाया करने के लिए एक होना चाहिए।

मासूमों की जान लेता है आतंकवाद :

पीएम मोदी ने कहा कि आतंक से निपटने के लिए हमें एक होना होगा और अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन करना चाहिए। आतंकवाद रोज मासूमों बच्चों की जान लेता है। आतंक का सफाया जरूरी है और इसे निपटाने के लिए सभी को साथ आना होगा।

कनेक्टविटी पर भी दिया जोर :

इसके अलावा पीएम मोदी ने कहा कि आधुनिक समय में कनेक्टविटी बेहद जरूरी है। लोगों का आपस में संपर्क होना भी जरूरी है, जल्द ही भारत की वेबसाइट पर रूस की टूरिज्म की जानकारी भी होगी।

इसके अलावा अफगानिस्तान के लोगों के साथ मिलकर हम आगे बढ़ेंगे। ढट मोदी ने इस दौरान अफगानिस्तान में भारत की तरफ से चलाई जा रही योजनाओं का भी जिक्र किया। साथ ही रउड देशों के बीच हेल्थ, टूरिज्म समेत अन्य सेक्टरों को बढ़ाने का जिक्र किया।

जलवायु संकट पर पीएम की नजर :

पीएम मोदी ने कहा कि बहुपक्षीय व्यापार प्रणाली की जरूरत है। जलवायु परिवर्तन से निपटने के लिए भारत प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि भारत जलवायु परिवर्तन को लेकर सकारात्मक कदम उठा रहा है।
गौरतलब है कि इससे पहले भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जब श्रीलंका गए थे, तब भी उन्होंने आतंकवाद के मुद्दे पर अंतरराष्ट्रीय कॉन्फ्रेंस की बात कही थी।

 

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें 

Facebook पर Like करें, Twitter पर Follow करें  और Youtube  पर हमें subscribe करें।

Back to top button