अगर कांग्रेस जीती तो असम में लागू नहीं होगा CAA -राहुल गांधी

टीआरपी डेस्क। कांग्रेस नेता राहुल गांधी आज असम दौरे पर हैं। राहुल गांधी ने डिब्रूगढ़ में किसान, CAA समेत कई मुद्दों पर भाजपा को घेरा। इस दौरान राहुल ने कहा कि कांग्रेस यह सुनिश्चित करेगी राज्य में नागरिकता कानून (संशोधित) लागू नहीं होगा। उन्होंने कॉलेज के स्टूडेंट से बातचीत करते हुए कहा कि युवा बेरोजगार हैं। किसान लगातार CAA का विरोध कर रहे हैं। अगर हम दिल्ली में आते हैं तो वह असम के लोगों से उनकी संस्कृति, भाषा को भूलने के लिए नहीं कह सकते। इसके साथ ही राहुल ने RSS का नाम लिए बिना उस पर पूरे देश को नियंत्रित करने का आरोप लगाया।

युवाओं को असम के लिए लड़ना चाहिए

राहुल ने आगे कहा कि ‘लोकतंत्र का अर्थ है- असम की आवाज असम पर राज करे। यदि हम छात्रों को शामिल नहीं करते हैं तो कोई लोकतंत्र नहीं हो सकता। युवा को सक्रिय रूप से राजनीति में भाग लेना चाहिए और असम के लिए लड़ना चाहिए। आपको पत्थरों, लाठियों से नहीं प्यार से लड़ना होगा।’ कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कॉलेज छात्रों से कहा कि भाजपा लोगों को बांटने के लिए नफरत फैलाती है।

इसके साथ ही राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मेक इन इंडिया की बात करते हैं, लेकिन जैसे ही आप मोबाइल चेक करेंगे आपको मेड इन चाइना मिलेगा। बजाया मेड इन असम और भारत, लेकिन हम चाहते हैं कि मेड इन असम और भारत हो, जो भाजपा से नहीं हो पाएगा। उन्होंने कहा कि भाजपा केवल उद्योगपतियों के लिए कार्य करती है।

मैं नरेंद्र मोदी नहीं हूं, मैं झूठ नहीं बोलता -राहुल गांधी

राहुल ने आगे कहा कि भाजपा सरकार ने 351 रुपये का वादा किया, लेकिन असम के चाय श्रमिकों को 167 रुपये दिए। उन्होंने कहा,’ मैं नरेंद्र मोदी नहीं हूं, मैं झूठ नहीं बोलता। आज हम आपको 5 गारंटी देते हैं। चाय श्रमिकों के लिए 365 रुपये, हम सीएए के खिलाफ खड़े होंगे, 5 लाख नौकरियां, 200 यूनिट मुफ्त बिजली और गृहिणियों के लिए 2000 रुपये देंगे।

बता दें कि राहुल गांधी आज छाबुआ के दिनजॉय स्थित चाय के बागान में मजदूरों से मुलाकात करेंगे। साथ ही तिनसुकिया में जनसभा को भी संबोधित करेंगे। वहीं प्रियंका गांधी वाड्रा भी 21 और 22 मार्च को असम का दौरा करेंगी। जहां उनकी छह रैलियां करने की संभावना है। प्रियंका असम के जोरहाट, गोलाघाट, नागांव जिलों में चुनावी रैलियों को संबोधित करेंगी।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे फेसबुक, ट्विटरटेलीग्राम और वॉट्सएप पर…

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button