भारतीय रेलवे ने छह साल में खत्म कर दिए 72 हजार पद!

नई दिल्ली। देशभर में सबसे ज्यादा नौकरी देने वाली संस्था भारतीय रेलवे ने पिछले 6 वर्षों में 72 हजार से अधिक पदों को समाप्त कर दिया है। हालांकि इस अवधि के दौरान रेलवे ने 81 हजार पद समाप्त करने का लक्ष्य रखा था। समाप्त हुए सभी पद नई तकनीक आने के बाद गैर-जरूरी हो गए थे और भविष्य में भी इनकी आवश्यकता नहीं है। इसलिए अब इन पदों पर भविष्य में कोई भर्ती नहीं निकलेगी। ये सभी ग्रुप सी और ग्रुप डी के पद हैं।

ईटी की एक रिपोर्ट के अनुसार वर्तमान में ऐसे पदों पर कार्यरत कर्मचारियों को रेलवे के विभिन्न विभागों में समाहित किए जाने की संभावना है। दस्तावेजों के अनुसार, 16 क्षेत्रीय रेलवे ने वित्तीय वर्ष 2015-16 से 2020-21 के दौरान 56,888 गैर-जरूरी पदों को समाप्त किया है, जिसमें से 15,495 और समाप्त करने के लिए निर्धारित हैं। जहां उत्तरी रेलवे ने 9,000 से अधिक पदों को समाप्त किया है, वहीं दक्षिण पूर्व रेलवे ने लगभग 4,677 पदों को समाप्त कर दिया है।

दक्षिण रेलवे ने 7,524 और पूर्वी रेलवे ने 5,700 से अधिक पदों को समाप्त कर दिया है। सूत्रों ने इकोनॉमिक टाइम्स को बताया , “वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए कर्मचारियों का एक कार्य-अध्ययन प्रदर्शन, जो यह निर्धारित करता है कि एक निश्चित पद समाप्त हो गया है या नहीं, ये अंतिम चरण में है। उम्मीद है कि प्रक्रिया पूरी होने के बाद करीब 9,000 और पदों को समाप्त किया जाएगा।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर

Back to top button