अवैध रेत खनन पर प्रशासन की छापामार कार्यवाही, 7 रेत भंडारों पर केस दर्ज कर वाहन किये ज़ब्त

रायपुर। अवैध रेत खनन और भंडारण पर आज प्रशासन द्वारा बड़ी कार्यवाही की गयी। प्रशासन की छापेमारी में अवैध रेत खनन कार्यों में लिप्त वाहनों को कलेक्टर सौरभ कुमार के निर्देश पर जप्त कर लिया गया।

ये भी पढ़ें – राष्ट्ररक्षकों को पेंशन का अधिकार नहीं है तो मैं भी पेंशन छोड़ने को तैयारः वरुण गांधी

यह सभी वाहन रेत भंडारण के निर्धारित नियमों के विरुद्ध अवैध रूप से रेत का खनन और भंडारण कर रहे थे। अधिकारियों की इस छापामार कार्यवाही में अवैध रेत के सात भंडार पर केस दर्ज किया गया। वही सात हाईवा, एक जेसीबी सहित दो ट्रक भी जप्त कर लिए गए।

लगातार आ रही शिकायतों के बाद प्रशासन सख्त

बता दें कि नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल के नियमानुसार वर्षा काल की अवधि में नदियों से रेत खनन का कार्य प्रतिबंधित होता है। छत्तीसगढ़ में यह अवधि 10 जून से 15 अक्टूबर तक निर्धारित की गई है। इसके बावजूद मंदिरहसौद, नकटा, हरडीडीह और अन्य कई क्षेत्रों में लगातार अवैध रेत खनन की शिकायतें आ रही थी। जिसके बाद एनजीटी के द्वारा सौरभ कुमार के निर्देश पर बगैर रायल्टी पर्ची और आवश्यक दस्तावेज के किये जा रहे अवैध रेत खनन पर कार्यवाही की गई।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर

Back to top button