ईओडब्ल्यू ने की बड़ी कार्रवाई, नगर निगम के सहायक यंत्री के घर पर छापा, मिली 200 गुना ज्यादा संपत्ति

जबलपुर। आर्थिक अन्वेषण ब्यूरो की टीम ने नगर निगम के सहायक यंत्री आदित्य शुक्ला घर पर छापामार कार्रवाई करते हुए अहम दस्तावेज जप्त किए हैं। जांच में आय से 200 गुना ज्यादा संपत्ति मिलने का अनुमान है। जानकारी के मुताबिक जांच में घर से लाखों रुपए नगदी, जमीन के कागज, दो आलीशान मकान, तीन कार मिली है। EOW की टीम बुधवार तड़के 4 बजे रतन नगर स्थित आवास में दाखिल हुई थी। EOW ने मामला दर्ज कर आगे की जांच शुरू की है।

पूर्व आयुक्त समेत 7 लोगों पर केस है दर्ज

बता दें कि लीज नवीनीकरण के कार्य में शासन को लाखों रुपये का चूना लगाने वाले नगर निगम के पूर्व आयुक्त समेत सात लोगों के खिलाफ ईओडब्ल्यू ने भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत एफआइआर दर्ज की है। आरोपियों ने नेपियर टाउन स्थित 900 वर्गफीट के प्लाट को कूटरचित दस्तावेजों के आधार पर 1693 वर्गफीट में लीज नवीनीकरण व भवन नामांतरण करा दिया था। जिसके आधार पर भवन अनुज्ञा प्राप्त कर शासन को करीब 12 लाख 15 हजार रुपये व 793 वर्गफीट अपंजीकृत रकवा पर स्टाम्प शुल्क की हानि उठानी पड़ी थी।

इंदौर नगर निगम के अधिकारियों पर भी छापा

कुछ वक्त पहले इंदौर नगर निगम के उपायुक्त के निजी सहायक और नगर निगम में दरोगा के पद पर पदस्थ अधिकारी के ठिकानों पर आर्थिक अपराध शाखा ने छापा मारा था। इस कार्रवाई में अधिकारी के यहां से करोडों रुपये की प्रॉपर्टी के दस्तावेज और सोने-चांदी के आभूषण मिले थे। नगर निगम में दरोगा मुकेश पांडे के तीन ठिकानों पर आर्थिक अपराध शाखा की टीम ने छापा मारा था। आर्थिक अपराध शाखा की टीम में 50 से अधिक अधिकारी और कर्मचारी शामिल थे। छापे की कार्रवाई के दौरान करोडों रुपये की प्रॉपर्टी के दस्तावेज के साथ-साथ सोने-चांदी के आभूषण मिले हैं।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर

Back to top button