टीआरपी डेस्क। एयर इंडिया ने अपनी भविष्य योजनाओं को लेकर एक विस्तृत योजना पेश की है, कंपनी ने इसे ‘विहान एआई’ नाम दिया है। जिसके तहत कंपनी ने अगले पांच सालों में विमान उद्योग में 30 फीसदी हिस्सेदारी का लक्ष्य रखा है।

‘विहान एआई’ योजना के अंतर्गत एयर इंडिया अपना पूरा कायाकल्प करेगी। साथ ही कंपनी अपने नेटवर्क और फ्लाईट का भी विस्तार करेगी। कंपनी का जोर ग्राहक अनुभव को बेहतर करने, समय पर सेवाएं देने, सबसे अच्छे टेलेंट को कंपनी में लाने और इनोवेशन पर होगा।

पहले कर्मचारियों से लिया गया फीडबैक

एयर इंडिया ने बताया कि ‘विहान एआई’ को कंपनी ने कर्मचारियों से मिले फीडबैक के आधार पर तैयार किया है। ‘विहान एआई’ के पांच मुख्य केंद्र होंगे – पहला ग्रहकों का अनुभव, ऑपरेशन में वृद्धि, इंडस्ट्री का सबसे अच्छा टेलेंट लाना, ऑपरेशन को दक्ष बनाना और लाभ हासिल करना।

एयर इंडिया के एमडी और सीईओ कैंपवेल विल्सन का कहना है कि एयर इंडिया के ऐतिहासिक कायाकल्प की शुरूआत हो चुकी है। ‘विहान एआई’ एयर इंडिया को एक अंतरराष्ट्रीय स्तर की एयरलाइन बनाएगा।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर