Bhanupratappur by-election - प्रत्याशी चुनने में CONG. और BJP का छूटा पसीना
Bhanupratappur by-election - प्रत्याशी चुनने में CONG. और BJP का छूटा पसीना

विशेष संवादाता, रायपुर

भानुप्रतापपुर से कांग्रेस विधायक मनोज मंडावी के निधन से रिक्त हुई विधानसभा सीट के लिए हो रहे उपचुनाव में जितने से ज्यादा प्रत्याशी चयन कठिन हो गया है। पहले दोनों दलों को प्रत्याशी चयन आसान लग रहा था। इसलिए दिवंगत मनोज मंडावी की पत्नी सावित्री मंडावी को आनन-फानन में सरकारी नौकरी से इस्तीफा दिलवा दिया गया था। इस फैसले के बाद से ही क्षेत्र में सवाल उठने लगा कि क्या एक ही परिवार को दावेदारी दी जाती रहेगी।

वैसे भी सावित्री कोई राजनीतिज्ञ या पार्टी पद में नहीं रही हैं। जबकि CONG के कई वरिष्ठ, क्षेत्र में लोकप्रिय और पार्टी के लिए समर्पित अन्य भी हैं। जिन्हे अब तक मौका नहीं मिला है। इसी तरह के हालत BJP में भी हैं। नतीजतन दोनों पार्टियों से दावेदारों की भरमार है और नाम चयन करना इतना आसान नहीं कि अब अनदेखी की जाये।

बता दें कांग्रेस के 14 दावेदारों की सर्वे रिपाेर्ट शनिवार शाम तक पीसीसी के पास पहुंच जाएगी। कांग्रेस की रिपोर्ट के आधार पर पहले तीन से चार दावेदारों की सूची प्रदेश प्रभारी पीएल पुनिया के पास भेजी जाएगी। दरअसल प्रदेश चुनाव समिति की बैठक में मनोज मंडावी की पत्नी सावित्री मंडावी समेत 14 दावेदारों के नाम सामने आए थे। सभी से वन टू वन चर्चा के बाद सर्वे की बात कही थी।

बताया जा रहा है कि पार्टी उम्मीदवार के नाम की घोषणा नामांकन की अंतिम तिथि से एक- दो दिन पहले 14 या 15 नवंबर को करेगी। प्रदेश चुनाव समिति की बैठक चार बजे प्रदेश कार्यालय कुशाभाऊ ठाकरे परिसर में होगी। इससे पहले दोपहर 1 बजे सभी चारों पर्यवेक्षक इन नामों पर चर्चा के लिए आपस में बैठेंगे।

यहां से नामों का पैनल बनाकर केंद्रीय चुनाव समिति को भेजा जाएगा, जो अंतिम रूप में उम्मीदवार के नाम की घोषणा करेगी। भाजपा के सभी चार पर्यवेक्षक पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविचार नेताम, विधायक शिवरतन शर्मा, सांसद संतोष पाण्डेय और विधायक रंजना साहू हैं।

17 तक नामांकन, पांच दिसंबर को मतदान

कांग्रेस विधायक मनोज कुमार मंडावी के निधन से खाली हुई भानुप्रतापपुर सीट के लिए 10 नवंबर को अधिसूचना जारी हो गई। 10 नवंबर से भानुप्रतापपुर सीट के लिए नामांकन शुरू हो गया है। नामांकन की अंतिम तिथि 17 नवंबर है। नया विधायक चुनने के लिए 5 दिसंबर को मतदान होगा और 8 दिसंबर को मतगणना के बाद परिणाम घोषित किया जाएगा।

CONG. दावेदारों में ये सभी नाम

सावित्री मंडावी, बीरेश ठाकुर, राजेंद्र सलाम, जीवन राम ठाकुर, ठाकुर राम कश्यप, धनीराम धुर्वा, विजय ठाकुर, हेमंत कुमार ध्रुव, ललित नरेटी, सुनाराम तेता, राजेश पोटाई, तुषार ठाकुर और अनिता उइके का नाम था।

BJP में नेताम दौड़ में सबसे आगे

उप चुनाव के लिए दावेदारी पेश करने वाले 16 लोगों में सबसे प्रबल दावेदारी ब्रह्मानंद नेताम की है। हालांकि, परमानंद तेते और गौतम उइके का नाम भी प्रमुख दावेदारों में शुमार है। बता दें कि दावेदारी करने वालों में गंभीर सिंह ठाकुर, पूर्व विधायक देवलाल दुग्गा, जिलाध्यक्ष सतीश लाटिया, रामबाई गोटा, राजेंद्र आदि का नाम शामिल है। परमानंद तेते एनएमडीसी में असिस्टेंट मैनेजर मैकेनिकल रह चुके हैं, जबकि रामबाई जनपद की अध्यक्ष रह चुकी हैं।