रायपुर। हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को भाजपा के हाथों करारी हार मिली थी। हार की समीक्षा के बाद छत्तीसगढ़ कांग्रेस अब आगामी लोकसभा चुनाव की तैयारी में जुटी हुई हैं। कांग्रेस अपनी राजनीतिक जनाधार को फिर से वापस पाने के लिए लगातार मेहनत कर रही है। इस बीच छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस अल्पसंख्यक विभाग के प्रदेश प्रभारी मोहम्मद गुलाब एवं सह प्रभारी रंजीत सिंह बेदी की अध्यक्षता में प्रदेश कार्यकारिणी बैठक आयोजित की गई थी जिसमें संगठन के कई वरिष्ठ नेता अनुपस्थित रहे। बैठक में अनुपस्थित इन नेताओं के खिलाफ पार्टी के नियमानुसार कड़ी कार्रवाई करने की तैयारी की जा रही है। इन नेताओं के खिलाफ निलंबन और निष्कासन की कार्रवाई की जा सकती है।


पूर्व घोषित महत्वपूर्ण बैठक में अनुपस्थित 9 प्रदेश उपाध्यक्ष, 19 प्रदेश महासचिव, 51 प्रदेश सचिव व 09 ज़िला अध्यक्षों के संगठन के प्रति उदासीन बर्ताव को देख कर प्रदेश प्रभारी मोहम्मद गुलाब एवं सहप्रभारी रंजीत सिंह बेदी के आदेशानुसार प्रदेश अध्यक्ष ने कारण बताओ नोटिस जारी किया हैं। अनुपस्थित पदाधिकारियों को 3 दिन के भीतर जवाब देने का निर्देश दिया गया है और अगर उनका जवाब संतोषप्रद नहीं पाया जाता है तो उन पदाधिकारियों पर संगठनात्मक कार्यवाही की जाएगी।