Monday, January 17, 2022
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
Homeराष्ट्रीयबड़ी खबरः दोनों डोज लगे स्थानीय घरेलू यात्रियों को भी रखनी होगी...

बड़ी खबरः दोनों डोज लगे स्थानीय घरेलू यात्रियों को भी रखनी होगी RT-PCR नेगेटिव रिपोर्ट

spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

टीआरपी डेस्क। कोरोना के नए वेरिएंट ‘Omicron’ का खतरा पूरी दुनिया पर मंडरा रहा है। इसे देखते हुए केंद्र और राज्य सरकार ने भी अपनी तरफ से कई तैयारियां शुरू कर दी हैं। महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार ने भी कोरोना के नए वेरिएंट (New Corona Variant) से बचाव के लिए ट्रैवल गाइडलाइंस जारी की है।

राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे (Rajesh Tope) ने इसकी जानकारी दी। महाराष्ट्र सरकार ने बुधवार को एक अधिसूचना जारी कर कहा कि वैक्सीन की दोनों डोज लगे स्थानीय घरेलू यात्री बिना RT-PCR नेगेटिव रिपोर्ट के भी राज्य में प्रवेश या यात्रा कर सकता है।

राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा कि अगर यात्रियों की 10-15 दिनों की यात्रा इतिहास ‘Omicron’ प्रभावित क्षेत्रों को दिखाता है तो उन्हें 7 दिन के इंस्टीट्यूशनल क्वरेंटाइन के बाद आरटी-पीसीआर रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद ही छोड़ा जाएगा।

इससे पहले कई रिपोर्ट में यह दावा किया गया था कि मुंबई हवाई अड्डे ने सभी घरेलू एयरलाइनों को निर्देश दिया है कि वे प्रस्थान के 72 घंटों के भीतर की नेगेटिव आरटी-पीसीआर रिपोर्ट के बिना यात्रियों को मुंबई के लिए बोर्ड न करें। बयान में कहा गया है कि पारिवारिक संकट जैसे असाधारण मामलों में मुंबई हवाई अड्डे पर आगमन पर परीक्षण की अनुमति दी जा सकती है।

इससे पहले कोरोना वायरस के ‘ओमिक्रॉन’ वेरिएंट के कारण उत्पन्न चिंताओं के बीच महाराष्ट्र राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने मंगलवार रात को कहा कि ‘जोखिम वाले’ देशों से राज्य आने वाले यात्रियों को अनिवार्य रूप से सात-दिन तक इंस्टीट्यूशनल क्वारेंटाइन में रहना होगा। केंद्र सरकार ने ‘जोखिम वाले’ देशों की सूची की घोषणा की है. सूची के अनुसार, ‘जोखिम वाले’ देशों में यूरोपीय देश, ब्रिटेन, दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील, बोत्सवाना, चीन, मॉरीशस, न्यूजीलैंड, जिम्बाब्वे, सिंगापुर, हांगकांग और इज़राइल हैं।

प्राधिकरण के दिशा-निर्देशों के मुताबिक, ऐसे यात्रियों की राज्य में पहुंचने के दूसरे, चौथे और सातवें दिन आरटी-पीसीआर पद्धति से जांच भी होगी। उसमें कहा गया है कि यदि कोई यात्री संक्रमित पाया जाता है, तो उसे अस्पताल में भर्ती किया जाएगा। अगर उसकी रिपोर्ट निगेटिव आती है तो भी उसे सात दिन के लिए घर में पृथक-वास में रहना होगा।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर

RELATED ARTICLES
- Advertisment -CG Go Dhan Yojna

R.O :- 11682/ 53

Chhattisgarh Clean State

R.O :- 11664/78





Most Popular