Monday, November 29, 2021
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeTop StoriesHuman Trafficking: रोजगार का झांसा देकर साठ हजार में बेची गई जशपुर...

Human Trafficking: रोजगार का झांसा देकर साठ हजार में बेची गई जशपुर की बेटी, हिरासत में रिश्तेदार

spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

टीआरपी डेस्क। Human Trafficking : रोजगार का झांसा देकर मानव तस्करी किए जाने का मामला सामने आया है। जशपुर पुलिस ने पीड़ित एक युवती को उत्तर प्रदेश के कानपुर से बरामद कर, मामले में शामिल तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है।

पकड़े गए आरोपियों में एक महिला भी शामिल है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार घटना दिनांक 13 मार्च को थाना तपकरा के एक गांव की निवासी पीड़ित ने रिपोर्ट दर्ज कराया कि उसकी मौसी की बेटी को तुमला थाना क्षेत्र के ग्राम सर्करा निवासी चांदनी बाई 26 जनवरी से सप्ताह भर पहले अच्छे काम एवं अच्छा पैसा मिलने का लालच दे रही थी। बहकावे में आकर 26 जनवरी 2020 को प्रार्थी की लड़की बिना किसी को बताए घर से निकल गई थी।

प्रार्थी ने शिकायत में बताया था कि बेटी की पतासाजी करते हुए चांदनी बाई के घर जाकर पता करने पर पता चला कि चांदनी उत्तर प्रदेश के कानपुर चली गई है। इसके करीब तीन-चार दिन के बाद प्रार्थी की बेटी के द्वारा प्रार्थी को फोन कर बताया कि वह चांदनी बाई के साथ कानपुर आ गई है और चांदनी उसे दूसरे घर में छोड़ दी है तथा जिस घर में उसे छोड़ा है वे घर वाले उसे बाहर निकलने नहीं देते हैं और बोलते हैं कि उसे पैसे देकर खरीदे हैं जिस पर थाना तपकरा में धारा 365,370 कायम कर जांच शुरू की थी।

साइबर सेल की मदद से पुलिस ने पीड़िता व आरोपियों को कानपुर उत्तर प्रदेश के शिवराजपुर थाना अंतर्गत ग्राम सदिकामऊ में पीड़िता का आरोपी रवि दीक्षित पिता लाल जी दीक्षित के घर में होने का पता चला।

60 हजार में किया गया था सौदा

पुलिस की टीम ने आरोपी रवि दीक्षित के घर दबिश देकर पीड़िता को बरामद किया। पूछताछ में पता चला कि आरोपिता चांदनी बाई, पीड़िता की रिश्तेदार है। उसने पति विशाल दुबे के साथ मिलकर पीड़िता को बहला-फुसलाकर कानपुर उत्तर प्रदेश ले जाकर आरोपी रवि कुमार दीक्षित एवं उसके बड़े भाई अमित कुमार दीक्षित के पास 60 हजार में पीड़िता का सौदा किया था। सौदे की इस तय रकम में से आरोपिता ने 10 हजार रुपये प्राप्त किए थे।

पूछताछ के दौरान आरोपित रवि दीक्षित ने थाना प्रभारी तपकरा वंशनारायण शर्मा को बताया कि 22 अक्टूबर को पीड़िता पर दबाव बनाकर उसके साथ जबरन शादी कर लिया था। शादी से पूर्व एवं पश्चात लगातार आरोपित, पीड़िता का दैहिक शोषण करता रहा। पीड़िता को उनके परिजनों के सुपुर्द में देकर पीड़िता को बिक्री करने वाले आरोपी चांदनी बाई व उसके पति विशाल दुबे तथा पीड़िता को खरीदने वाले आरोपी रवि कुमार दीक्षित व उसके बड़े भाई अमित कुमार दीक्षित पिता लाल जी दीक्षित के विरुद्ध थाना तपकरा में धारा 365, 370, 366, 506, 376 कायम कर सभी आरोपितों को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेजा गया है।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे फेसबुक, ट्विटरटेलीग्राम और व्हाट्सप्प पर…

RELATED ARTICLES
- Advertisment -Chhattisgarh  Adivasi Mahotsav & Rajoytsav

R.O :- 11641/ 58





Most Popular