नहीं रही Mumbai की ‘निर्भया’, हॉस्पिटल में 33 घंटे तक मौत से लड़ती रही जंग… सोशल मीडिया पर सीएम के खिलाफ फूटा लोगों का गुस्सा

नहीं रही Mumbai की 'निर्भया', हॉस्पिटल में 33 घंटे तक मौत से लड़ती रही जंग... सोशल मीडिया पर सीएम के खिलाफ फूटा लोगों का गुस्सा

टीआरपी डेस्क। अस्पताल में 33 घंटे बाद महाराष्ट्र की निर्भया जिंदगी से जंग हार गई। बता दें कि मुंबई के साकीनाका इलाके में महिला के साथ रेप हुआ था। मुंबई के राजवाड़ी अस्पताल में पीड़िता का इलाज किया जा रहा था।

वेंटिलेटर पर जारी था इलाज

पीड़िता के निधन से पहले मुंबई की मेयर किशोरी पेडणेकर ने बताया था कि अभी महिला की हालत क्रिटिकल है, खून कम है और प्राइवेट पार्ट निकल गया है। अभी महिला वेंटिलेटर पर है ये एक दुखद घटना है। महिला की आंतें बाहर आ गई थीं, ब्लड बहुत निकल गया था, दो मिनट या दो घंटा कह नहीं सकते, डॉक्टर जी जान से काम कर रहे हैं।

आरोपी हुआ गिरफ्तार

मुंबई पुलिस ने आरोपी मोहन चौहान को गिरफ्तार कर लिया है। उसके खिलाफ आईपीसी की धारा 307, 376, 323 और 504 के तहत केस दर्ज किया गया है। बता दें कि मुंबई में रेप के आरोपी का CCTV फुटेज भी सामने आया है। आरोपी मुंबई के साकीनाका इलाके में दिखा था। ये वीडियो गुरुवार की रात का बताया जा रहा है। पीड़िता रात करीब 8 बजे बहन के घर जाने के लिए निकली थी।

पुलिस को सूचना मिली कि साकीनाका के खैरानी रोड पर एक शख्स महिला की बुरी तरह से पिटाई कर रहा है। पुलिस मौके पर पहुंची तो पीड़िता खून से लथपथ पड़ी। पुलिस पीड़िता को नगर निगम संचालित राजावाड़ी अस्पताल लेकर पहुंची। शुरुआती जांच में पता चला की पीड़िता के प्राइवेट पार्ट में लोहे की रॉड से हमला किया गया है।

वहीं इस घटना से मुंबई वासी भी अपनी नाराजगी जाहिर कर रहे हैं। @ErayCr नाम के यूजर लिखते हैं कि मुंबई की निर्भया की मौत हो गई। उसके साथ जिस तरह की हैवानियत हुई है, उसे लिखना भी मुश्किल है। ऐसी ही घटना पिछले दिनों पुणे में हुई थी, जोकि 8 दिनों बाद प्रकाश में आई थी, क्योंकि मीडिया ने चुप्पी साध रखी थी। उन्होंने कहा ऐसी घटनाओं पर न सिर्फ CM खामोश हैं बल्कि बॉलीवुड भी चुप्पी साधे बैठा है।

@rahul_adap नाम के यूजर ने लिखा कि मुंबई रेप पीड़िता की मौत हो गई, काश कुछ दिनों के लिए महाराष्ट्र का नाम उत्तर प्रदेश रख दिया जाता, कभी मीडिया मुंबई और पुणे जैसी हैवानियत के मुद्दे उठाएगा। उन्होंने कहा कि लुटियन मीडिया चुप है क्योंकि इस मामले में उनकी फेवरेट पार्टी और समुदाय के लोग शामिल हैं।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएपपर