Monday, January 17, 2022
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeTop Storiesहसदेव अरण्य के सभी कोल ब्लॉक के निरस्त होने तक जारी...

हसदेव अरण्य के सभी कोल ब्लॉक के निरस्त होने तक जारी रहेगा संघर्ष, मदनपुर में आयोजित विशाल सभा में लिया गया संकल्प

spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

कोरबा। हसदेव अरण्य बचाओ संघर्ष समिति द्वारा आज कोरबा जिले के ग्राम मदनपुर में छत्तीसगढ़ के प्रथम स्वतंत्रता सेनानी, शहीद वीर नारायण सिंह की शहादत और अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस के अवसर पर हसदेव बचाओ सम्मेलन का आयोजन किया गया। इस सम्मेलन में हसदेव अरण्ड क्षेत्र के 35 गांव के हजारों ग्रामीण आदिवासी शामिल हुए।

ग्राम सभा के अधिकारों की रक्षा के लिए संघर्ष

इस सम्मेलन को संबोधित करते हुए संयोजक उमेश्वर सिंह अर्मो ने कहा कि संपूर्ण हसदेव अरण्ड संविधान की पांचवीं अनुसूची क्षेत्र में शामिल है। पेसा और वन अधिकार कानून ग्राम सभाओं को अपने जल, जंगल ,जमीन, आदिवासी संस्कृति और रीति रिवाज के संरक्षण का अधिकार देता है। इन अधिकारों की सतत रक्षा करने हसदेव अरण्ड की ग्राम सभाएं पिछले एक दशक से संघर्षरत है।

संपूर्ण हसदेव के कोल ब्लॉक निरस्त करे सरकार

पिछले दिनों 300 किलोमीटर की पदयात्रा के बाद राज्यपाल और मुख्यमंत्री ने परसा कोल ब्लॉक की फर्जी ग्रामसभा प्रस्ताव बनाकर हासिल की गई वन स्वीकृति की जांच और कार्यवाही का वादा किया था, लेकिन उस पर कोई भी कार्यवाही किए बिना ही वन स्वीकृति जारी कर दी गई, हालांकि इसका अंतिम आदेश राज्य सरकार ने रोक दिया है, लेकिन कंपनी दवाब बनाकर गैर कानूनी तरीके से परियोजना शुरू करवाने का प्रयास कर रही है ।
आज के सम्मेलन के माध्यम से संघर्ष समिति ने राज्य सरकार से निवेदन किया है कि वह सिर्फ कोरबा जिला ही नही बल्कि सम्पूर्ण हसदेव अरण्य क्षेत्र को बचाने के अपने वादे पर अमल करते हुए सभी आबंटित कोल ब्लॉक को निरस्त करें।

इस सम्मेलन में शामिल हसदेव अरण्ड की ग्राम सभाओं ने हसदेव अरण्ड के सम्पूर्ण वन क्षेत्र को सुरक्षित रखने और अपने संवैधानिक अधिकारों की रक्षा सतत करने का संकल्प लिया। आंदोलन को और मजबूत करने एवं किसान आंदोलन की सफलता का जश्न मनाते हुए विभिन्न सांस्कृतिक आयोजनों में माध्यम से शहीद वीर नारायण सिंह, महात्मा गांधी, बाबा साहेब अंबेडकर और दादा हीरा सिंह मरकाम को श्रद्धांजलि दी और हसदेव अरण्ड को बचाने के अपने संघर्ष को लगातार जारी रखने का ऐलान किया। लोगों ने कहा कि यह संघर्ष तब तक नही रुकेगा जब तक सम्पूर्ण हसदेव के समस्त कोयला खदानों को निरस्त नही कर दिया जाता।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर

RELATED ARTICLES
- Advertisment -CG Go Dhan Yojna

R.O :- 11682/ 53

Chhattisgarh Clean State

R.O :- 11664/78





Most Popular