टीआरपी ब्रेकिंग: आखिरकार कोरोना टेस्ट किट की खरीदी का टेंडर फाइनल, अब की बार मोटी कमाई करने पेट्रोल पम्प, सिक्यूरिटी सर्विस,लकड़ी टाल वाले भी टेंडर में आए

टीआरपी न्यूज/रायपुर। कोरोना संक्रमण की जांच के लिए राज्य सरकार के स्वास्थ्य विभाग ने 75 हजार रैपिड किट की खरीदी के लिए जो दोबारा निविदा जारी की ​गई थी उसे एल.2 प्रदायकर्ता एसडी बायोसेंसर के रेट को फाइनल कर दिया है। एसडी बायोसेंसर ने प्रति रैपिड टेस्ट किट के लिए 337 रुपए का रेट डाला था जिसे मंजूरी दे गई है। वेंडर को रैपिड टेस्ट किट की सप्लाई जल्द करने को कहा गया है।

मोटी कमाई के लिए दिए गए थे मनमानी रेट

बता दें कि इससे पहले कोरोना टेस्ट किट की खरीदी के लिए जारी की गई निविदा को तकनीकी कारणों से निरस्त कर दिया गया था। निविदा निरस्त करने के पीछे ​निविदाकार द्वारा 75 हजार रैपिड किट सप्लाई करने से मना करने को बताया जा रहा है। दोबारा जो टेंडर डाले गए हैं वो भी कम हैरान करने वाले नहीं है। इस बार पेट्रोल पम्प, सिक्यूरिटी सर्विस, लकड़ी टाल वालों ने भी रैपिड किट के टेंडर दिए हैं। कोरोना संक्रमण काल में जब पूरा देश कोरोना टेस्ट किट का इंतजार कर रहा है तब बिना मेेडिकल सप्लाई के अनुभव वाले टेंडरकर्ताओं जो रेट डाले हैं वो उनकी मोटी कमाई की मलाई काटने के इरादों को ही जाहिर करता है।

की जानी है 75 हजार रैपिड किट की खरीदी

बता दें कि इंडियन काउंसिल फॉर मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) से रैपिड एंटीबॉडी टेस्ट को स्वीकृति मिलते ही सरकार ने 75,000 रैपिड किट की खरीदी को मंजूरी निविदा जारी की थी। अब छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण की रैपिड जांच के लिए यहां के मरीजों को लंबा इंतजार नहीं करना पड़ेगा।

छत्तीसगढ़ में कुल 36 मामले,24 डिचार्ज,12ब कोरोना पॉजिटिव का चल रहा है इलाज

छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण के अब तक 36 मामले सामने आ चुके हैं जिसमें से 24 मरीजों को रायपुर एम्स में उपचार के बाद डिस्चार्ज किया जा चुका है। कोरोना पॉजिटिव 12 मरीजों को अब भी एम्स में चिकित्सकों की निगरानी में रखा गया है।

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें 

Facebook पर Like करें, Twitter पर Follow करें  और Youtube  पर हमें subscribe करें।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed