सतीश चंद्र वर्मा होंगे नए एडवोकेट जनरल

रायपुर। छत्तीसगढ़ में एडिशनल एडवोकेट जनरल (महाधिवक्ता) के लिए लंबे समय से चली आ रही खींचतान खत्म हो गई है। शासन ने आदेश जारी किया है जिसके अनुसार एडिशनल एडवोकेट जनरल (अतिरिक्त महाधिवक्ता) सतीश चंद्र वर्मा राज्य के नए एडवोकेट जनरल बनाए गए हैं। वे अब कनक तिवारी की जगह लेंगे।

kanak tiwari

शुक्रवार की शाम बस्तर से लौटने के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मीडिया से चर्चा करते हुए कहा था कि एडवोकेट जनरल कनक तिवारी ने इस्तीफा दे दिया है। उनका इस्तीफा मंजूर भी कर लिया गया है। साथ ही नए एडवोकेट जनरल (महाधिवक्ता) की भी नियुक्ति कर दी गई है।

कनक तिवारी ने किया था इस्तीफा से इनकार
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के बयान के बाद कनक तिवारी ने कहा था कि उन्होंने इस्तीफा दिया ही नहीं तो मंजूर कैसे कर लिया गय। कनक तिवारी ने अपने फेसबुक वॉल पर भी पोस्ट कर इस्तीफे की खबर का खंडन किया। उन्होंने साफ कहा था कि मैंने किसी को इस्तीफा नहीं दिया। कनक तिवारी का एक ऑडियो भी सोशल मीडिया में वायरल हुआ था। जिसमें इस्तीफा न देने का जिक्र था। अब इस मामले में कनक तिवारी स्वयं सीएम भूपेश बघेल से चर्चा करेंगे। उन्होंने सोशल मीडिया के जरिए इन खबरों का खंडन किया। लेकिन देर रात नए महाधिवक्ता के रूप में सतीश चंद्र वर्मा की नियुक्ति की खबर सामने आई।

शासन के आदेश पर सवाल
छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस जे के अध्यक्ष अमित जोगी आदेश को कटघरे में खड़ा कर दिया है। उनका कहना है कि इस तरह महाधिवक्ता को बर्खास्त कर नए महाधिवक्ता की नियुक्ति कई सवाल खड़े करता है। अमित जोगी ने आरोप लगाया है। उन्होंने कहा है कि महाधिवक्ता कनक तिवारी ने भूपेश बघेल के अनैतिक कार्यों का साथ नहीं दिया। यही कारण है कि इन्हें अपमानपूर्वक बर्खास्त कर दिया गया है।

Back to top button