नक्सल क्षेत्रों में मोबाइल यूनिट के जरिए मिलेगी चिकित्सकीय सहायताः सीएम

रायपुर। नक्सल क्षेत्र में लोगों को तत्काल स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने के लिए हाट बाजारों में मोबाइल चिकित्सा और सुपोषण व्यवस्था शुरू करेगी। मोबाइल यूनिट में डॉक्टर समेत स्वास्थ्य विभाग की पूरी यूनिट रहेगी। इसमें जांच और दवाई वितरण भी होगा। नक्सल इलाकों में पौष्टिक भोजन स्थानीय लोगों को बांटा जाएगा। इन इलाकों में पहले पायलट प्रोजेक्ट चलाकर योजना का परीक्षण किया जाएगा। सीएम भूपेश बघेल ने यह घोषणा महादेव घाट में आयोजित हरदिया साहू समाज के वार्षिक अधिवेशन के दौरान की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि समाज में बच्चों की शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार पर भी जोर देना चाहिए। श्री बघेल ने कहा कि खर्चीली शादी जैसी समी सामाजिक बुराई से निजात पाने के लिए हरदिया साहू समाज में सबसे पहले सामूहिक विवाह  का फैसला किया है, इसकी जितनी तारीफ की जाए वह कम है। समाज में सबकी सहमति और सबकी भागीदारी से सामूहिक विवाह का अभूतपूर्व फैसला लिया और छत्तीसगढ़ सहित देश को अच्छा रास्ता दिखाया।

मुख्यमंत्री ने किसानों की ऋण माफी, 25 सौ रूपए प्रति क्विंटल के मूल्य पर धान खरीदी की व्यवस्था जैसे निर्णयों की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि जब हमारे किसान मजबूत होंगे, छत्तीसगढ़ भी मजबूत होगा। श्री बघेल ने कहा कि हर परिवार को 35 किलो चावल देने का फैसला लिया गया है। इसी प्रकार अब शिक्षा को शिक्षा के अधिकार के दायरे में कक्षा 9 वीं से 12वीं तक विद्यार्थियों को भी लाभान्वित किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने चिटफंड कम्पनियों के संबंध में कहा कि गरीब व्यक्ति की राशि नहीं डूबे इसके लिए पूरी ताकत से कार्रवाई करेंगे।

Back to top button