Sunday, May 22, 2022
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeTop Storiesपश्चिम बंगाल में शुरू हुई भाजपा की 'परिवर्तन यात्रा', नड्डा ने कहा-...

पश्चिम बंगाल में शुरू हुई भाजपा की ‘परिवर्तन यात्रा’, नड्डा ने कहा- ‘ममता दीदी अब पछताए होत का, जब चिड़िया चुग गई खेत’

spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

टीआरपी डेस्क। पश्चिम बंगाल के मालदा में जेपी नड्डा के नेतृत्व में बीजेपी का रोड शो शुरू हो गया है। इसके साथ ही शनिवार को भाजपा ने परिवर्तन यात्रा की शुरुआत की। रैली को संबोधित करने के बाद नड्‌डा ने किसानों के साथ खाना खाया। अब वह माल्दा में ही रोड शो कर रहे हैं। इसमें समर्थकों की भारी भीड़ जुटी है।

मालदा रैली के दौरान बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि 10 जनवरी को कृषक सहयोग और सुरक्षा अभियान की शुरुआत मैंने की थी। हमने कहा था कि लगभग 40 हजार गांवों में हमारे ये कार्यक्रम होंगे। मुझे खुशी है कि आज 35 लाख किसान इस कृषक सुरक्षा अभियान से जुड़ गए हैं।

ईगो के कारण ममता ने रखा किसानों को योजनाओं से वंचित

जेपी नड्डा ने कहा कि पश्चिम बंगाल के किसानों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के लाभ से वंचित रखा गया। लेकिन अब चुनाव के कारण ममता बनर्जी कह रही हैं कि हम पश्चिम बंगाल के किसानों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि दिलाएंगे, उस पर रोक नहीं लगाएंगे।

ममता जी ने अपने ईगो, अभिमान के कारण मोदी जी की कई योजनाओं को बंगाल में लागू नहीं होने दिया। किसानों को प्रधानमंत्री किसान निधि से वंचित रखा। अब कह रही हैं कि इन योजनाओं को लागू करूंगी। लेकिन ममता दीदी ‘अब पछताए होत क्या, जब चिड़िया चुग गई खेत।’

श्री राम से ममता दीदी इतना डरती क्यों हैं ? -जेपी नड्डा

उन्होंने आगे कहा कि पश्चिम बंगाल में मैं जहां जाता हूं, वहां जय श्री राम नारा लग रहा हैं।’ मैं समझ नहीं पा रहा हूं कि ममता दीदी इतना डरती क्यों हैं? उन्हें इन नारों पर गुस्सा क्यों आता है? अगर किसानों की सेवा की होती तो ममता जी यह दिन नहीं देखने पड़ते। बंगाल विकास में 24वें स्थान पर खड़ा है। सिंचाई की व्यवस्था नहीं है, अनाज के स्टोरेज की व्यवस्था नहीं है। मेरा आपसे निवेदन है- ममता जी को टाटा करें। बंगाल की जनता ने उन्हें नमस्ते करने का मन बना लिया है।’

इस दौरान भाजपा अध्यक्ष नड्‌डा माल्दा में इंडियन सेंटर फॉर एग्रीकल्चर भी पहुंचे। जहां उन्होंने कॉम्प्रिहेंसिव खेती के बारे में जानकारी ली। मीडिया से बातचीत करते हुए नड्‌डा ने कहा, ‘पहले यहां आम होता था, लेकिन अब यहां और भी खेती होगी। मुझे खुशी है कि इसमें अब भारत सरकार योगदान देगी।’

भाजपा की ‘परिवर्तन यात्रा’

आपको बता दें, भाजपा पूरे राज्य में ऐसी 5 रथयात्राएं निकालेगी। इस अभियान को भाजपा ने ‘परिवर्तन यात्रा’ नाम दिया है। इसकी शुरुआत के लिए नवद्वीप को चुना गया है। यह 15वीं शताब्दी के संत चैतन्य महाप्रभु की जन्मस्थली है। इन दो यात्राओं में गृह मंत्री अमित शाह भी शामिल हो सकते हैं।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे फेसबुक, ट्विटरटेलीग्राम और वॉट्सएप पर…

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

R.O :- 12027/152





Most Popular