भाजपा के पिछड़ा वर्ग के नेताओं ने राज्यपाल से की छत्तीसगढ़ सरकार की शिकायत, न्यायालय के आदेश की अवहेलना का लगाया आरोप

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी के पिछड़ा वर्ग के नेताओं के एक प्रतिनिधि मंडल ने आज राज्यपाल अनुसुईया उइके से मुलाकात की. राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग के अध्यक्ष सियाराम साहू के नेतृत्व में प्रतिनिधि मंडल ने राज्यपाल से भेंट कर छत्तीसगढ़ सरकार की शिकायत की.

प्रतिनिधि मंडल ने नियमानुसार राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग के अध्यक्ष सियाराम साहू को अधिकार नही दिए जाने की बात से राज्यपाल को अवगत कराया। राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग अध्यक्ष सियाराम साहू ने कहा कि हाई कोर्ट के स्पष्ट आदेश के बावजूद आयोग को राज्य सरकार ने राजनीति का अखाड़ा बना रखा है.

राज्य सरकार ने की न्यायालय के आदेश की अवहेलना

हाई कोर्ट द्वारा अयोग्य ठहराये गये कांग्रेस नेता थानेश्वर साहू सत्ताधीशो के इशारे पर कक्ष में ताला लगाए हुए हैं, जिससे आयोग का कामकाज प्रभावित तो हो ही रहा है, साथ ही साथ आयोग जैसी संवैधानिक संस्था की गरिमा को भी कम करने का कार्य इस सरकार के द्वारा किया जा रहा है।

राज्य पिछड़ा वर्ग आयोग अध्यक्ष के कक्ष के बाद अब सचिव के कक्ष में भी ताला लगाकर राज्य सरकार ने माननीय न्यायालय के आदेश की अवहेलना की है जिसके खिलाफ हम लोग कोर्ट जाएँगे।

राज्यपाल को प्रतिनिधि मंडल ने सौंपा ज्ञापन

वर्तमान में आयोग की वर्तमान स्थिति से राज्यपाल को प्रतिनिधि मंडल ने अवगत कराया तथा एक ज्ञापन सौंपा, जिस पर राज्यपाल सुश्री अनुशुईया उइके ने सरकार को पत्र लिखकर कार्यवाही करने का आश्वासन दिया। प्रतिनिधि मंडल में भाजपा नेता गौरी शंकर श्रीवास, प्रह्लाद रजक और भूपेंद्र शंकर शामिल थे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button