राजधानी के काशी अपार्टमेंट में अकेली महिला को क्लोरोफॉर्म सुंघाकर थी डकैती की योजना… सतर्कता के चलते पकड़े गए आरोपी

रायपुर। राजधानी रायपुर इन दिनों अपराधियों का पसंदीदा गढ़ बना हुआ है। पुलिस की लाख कोशिशों के बाद भी आपराधिक घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही हैं। बुधवार को खम्हारडीह थाना क्षेत्र के अंतर्गत गीतांजलि नगर स्थित काशी अपार्टमेंट में कारोबारी विकास कुमार के घर में क्लोरोफॉर्म सुंघाकर बोरी में पैसे भरकर ले जाने की योजना के साथ आठ बदमाश पहुंचे थे।

दरअसल, उनके घर पर कुछ दिन पहले ही इनकम टैक्स की रेड पड़ी थी। आरोपियों ने विकास के घर पर ही डकैती की योजना भी बनाई। पुलिस ने बताया कि बुधवार दोपहर 12 बजे उत्तरप्रदेश निवासी दिनेश वर्मा और उसका चचेरा भाई विशाल वर्मा काशी अपार्टमेंट के फ्लैट नंबर 605 पर डकैती करने पहुंचे थे। अपार्टमेंट पर तैनात गार्ड को बदमाशों ने बताया कि वे इलेक्ट्रीशियन हैं। वे अपने साथ डकैती के लिए टेप, बोरी क्लोरोफॉर्म, चाकू आदि लेकर गए थे।

शोर-शराबा सुनकर मदद को आए पड़ोसी

घर पर विकास नहीं था, लेकिन उसकी पत्नी अंजलि ने देखा कि दो बदमाश घर के अंदर चाकू लेकर चले आ रहे हैं। अंजलि के धक्का देने और चिल्लाने पर पड़ोसियों ने आरोपियों को पकड़ लिया। शोर-शराबा सुनकर पकड़े जाने के डर से फ्लैट के बाहर खड़े तीन युवक कार लेकर फरार हो गए।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार बदमाश लगातार काशी अपार्टमेंट की रेकी कर रहे थे। इस साजिश का मास्टरमाइंड आरोपित चचेरे भाइयों का भांजा है, जो अकाउंटेंट था और उसने दो महीने पहले ही विकास के यहां काम छोड़ा था। पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि वे लगातार डेढ़ महीने से वारदात को अंजाम देने के लिए एक्टिवा और कार से सैकड़ों बार घर की रेकी कर चुके थे।

इस मामले में पुलिस ने भानूप्रतापपुर निवासी दो युवकों सहित भिलाई निवासी दो युवक और रायपुर के चार युवकों को भी गिरफ्तार किया है। आरोपियों के खिलाफ आर्म्स एक्ट सहित आईपीसी की धाराओं के तहत अपराध दर्ज किया गया है।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे फेसबुक, ट्विटरटेलीग्राम और वॉट्सएप पर
Back to top button