Saturday, May 21, 2022
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
Homeछत्तीसगढ़कोरोना की संभावित तीसरी लहर के लिए रखें सभी आवश्यक तैयारियां :...

कोरोना की संभावित तीसरी लहर के लिए रखें सभी आवश्यक तैयारियां : सिंहदेव

spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

स्वास्थ्य मंत्री ने की विभागीय काम-काज की समीक्षा

रायपुर। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री टीएस सिंहदेव ने प्रदेश में कोरोना संक्रमण और वैक्सीनेशन की स्थिति की समीक्षा की और अधिकारियों को कोरोना की संभावित तीसरी लहर से बचाव और उपचार के लिए सभी आवश्यक तैयारियां सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

सिंहदेव आज अपने निवास कार्यालय में विभागीय काम-काज की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने बैठक में राजधानी रायपुर सहित अन्य जगहों में फैल रहे डेंगू के प्रकरणों कीे रोकथाम और बचाव के लिए जल ठहराव, गंदगी के प्रति लोगों में जन-जागरूकता अभियान चलाने के भी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि डेंगू से पीड़ित मरीजों का एलिजा टेस्ट किया जाए। प्रभावित इलाकों के अस्पतालों में डेंगू के उपचार के लिए पर्याप्त मात्रा में दवाईयों की उपलब्धता का विशेष ध्यान रखा जाए।

आक्सीजन और वेन्टीलेटर की उपलब्धता की ली जानकारी

स्वास्थ्य मंत्री श्री सिंहदेव ने प्रदेश में कोरोना संक्रमण की संभावित तीसरी लहर के मददेनजर की जा रही तैयारियों की विस्तार से जानकारी ली और आक्सीजन और वेन्टीलेटर की उपलब्धता के साथ ही संक्रमण की रोकथाम के लिए बेहतर प्रबंधन के लिए सभी आवश्यक तैयारी रखने के भी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि अस्पताल में उपलब्ध सभी उपकरणों की साफ-सफाई और रख-रखाव पर ध्यान दिया जाए।

बैठक में वायरोलॉजी व हमर लैब की स्थापना और आयुष्मान एवं डॉ. खूबचंद बघेल स्वास्थ्य सहायता योजना के उचित क्रियान्वयन के संबंध में भी आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

सभी स्वास्थ्य केन्द्रों में निःशुल्क खून जांच की होगी सुविधा

बैठक में स्वस्थ्य मंत्री सिंहदेव ने बताया कि विभाग द्वारा ऐसा सिस्टम तैयार किया जा रहा है कि आगामी छह माह में प्रदेश के सभी स्वास्थ्य केन्द्रों में निःशुल्क खून जांच हो। प्राथमिक और उप स्वास्थ्य केन्द्रों में ही खून जांच कराने वालों का सैम्पल लिया जाएगा और विभाग के माध्यम से वाहनों द्वारा सैम्पल जांच के लिए खून जांच केन्द्रों में पहुंचाया जाएगा।

जांच के बाद उसकी रिपोर्ट ऑनलाईन भेज दी जाएगी। इसके अलावा मरीजों के ओपीडी पर्ची में डॉक्टरों द्वारा लिखी गई सभी दवाईयां भी निःशुल्क उपलब्ध कराने की तैयारी की जा रही है। उन्होंने प्रदेश के दुर्गम और दूरस्थ अंचलों में भी आवश्यकता के अनुरूप ब्लड बैंकों की स्थापना करने अधिकारियों को निर्देश दिए।

बैठक में स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव डॉ. आलोक शुक्ला, सचिव शहला निगार, विशेष सचिव सीआर प्रसन्ना, संचालक स्वास्थ्य सेवाएं नीरज बंसोड़, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की संचालक डॉ. प्रियंका शुक्ला, छत्तीसगढ़ मेडिकल कॉपोरेशन के प्रबंध संचालक कार्तिकेय गोयल, संचालक चिकित्सा शिक्षा डॉ. विष्णु दत्त सहित मेडिकल कॉलेज कांकेर, कोरबा और महासमुंद के अधिष्ठाता उपस्थित थे।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएपपर

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

R.O :- 12027/152





Most Popular