Saturday, May 21, 2022
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
HomeTRP News10 लाख का राजश्री गुटखा लूटने वाले 6 आरोपी गिरफ्तार,कंपनी का पूर्व...

10 लाख का राजश्री गुटखा लूटने वाले 6 आरोपी गिरफ्तार,कंपनी का पूर्व ट्रक चालक ही निकला मास्टर माइंड

spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

बिलासपुर। छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में 10 लाख रुपए के गुटखे से भरे मेटाडोर लूटने वाले गिरोह के 6 आरोपी मोहम्मद वसीम,मोहम्मद बिलाल अंसारी,शेख साहिल,पवन मौर्य, राकेश नायडू और राघव सोनी को पुलिस ने गिरफ्तार लिया है।

गिरोह के सदस्यों ने वारदात को अंजाम देने के लिए एक माह पहले की योजना बनाई थी। इस दौरान उन्होंने पांच दिनों तक रैकी की। फिर मौका पाकर पुलिस कर्मी बनकर बाइपास रोड में ड्राइवर को रोक लिया और बंधक बनाकर गुटखा समेत मेटाडोर लूटकर ले गए थे।

पुलिस की पूछताछ में पता चला कि आरोपी राकेश नायडू पहले गुटखा फैक्टरी में गाड़ी चलाता था। इसके चलते उसे गुटखा गाड़ी निकलने का समय पता था। यही वजह है कि उसने अपने साथियों के साथ मिलकर गुटखा गाड़ी को लूटने की योजना बनाई।

ऐसे खुला राज

बड़ी मात्रा में गुटखा खपाने के चक्कर में आरोपियों के लूट का राज खुल गया और पुलिस ने 6 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। उनके पास से गुटखा, कार, मेटाडोर, टाटा मैजिक वाहन और 6 मोबाइल समेत 25 लाख का माल जब्त किया गया है।

जानकारी देते हुए SP पारुल माथुर ने बताया कि लूट की वारदात के बाद तोरवा पुलिस और साइबर सेल की टीम इस मामले की जांच में जुट गई। उन्होंने खुद घटनास्थल का जायजा लिया और हाइवे पर ढाबा संचालक व कर्मचारियों से जानकारी जुटाने के निर्देश दिए।

इसके साथ ही उन्होंने CCTV फुटेज खंगालने कहा। मस्तूरी क्षेत्र के जिस रूट में लूटी हुई मेटाडोर मिली, उस रास्ते पर पुलिस ने बारीकी से जांच की और लगातार जानकारी जुटाती रही। आखिरकार 48 घंटे में पुलिस ने गिरोह को पकड़ लिया और लूटे हुए गुटखा के साथ ही घटना में उपयोग की गई गाड़ियों को भी जब्त कर लिया।

पुलिस की जांच के दौरान ही तोरवा थाने के आरक्षक गोविंद शर्मा व संजीव जांगड़े को खबर मिली कि सरकंडा के लिंगियाडीह में रहने वाले किराना दुकानदार बड़ी मात्रा में गुटखा बेचने की फिराक में है। यही पुलिस के लिए अहम सुराग था।

पुलिस ने दुकानदार को पकड़ने के पहले उसकी पूरी जानकारी जुटाई और साइबर सेल की मदद से उसका कॉल डिटेल्स खंगाला गया। तब लुटेरों की जानकारी मिली। फिर गिरोह के सदस्यों को पकड़ने के लिए खरसिया में दबिश दी।

जांच के दौरान पुलिस ने पवन मौर्य को पकड़ कर पूछताछ की, इससे पहले ही गिरोह के सदस्यों ने लूट की पूरी कहानी पुलिस को बता दिया था। दुकान संचालक पवन मौर्य अपने घर के पीछे बाड़ी में गुटखा के 140 बोरी गुटखा और 35 बोरी तंबाकू को छिपाकर रखा था।

पूछताछ में पता चला कि माल खपाने के बाद आरोपी विशाखापट्नम भागने की फिराक में थे।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

R.O :- 12027/152





Most Popular