CG NEWS : टमाटर की लाली पड़ रही जेबों पर भारी, इस वजह से 5 गुना बढ़ीं कीमतें…

रायपुर : देश भर में महंगाई की मार आम लोगों की जेबों पर तेज होती जा रही है। जहाँ एक ओर ईंधनों की कीमतों में अभूतपुर्व वृद्धि हो गयी है। वहीं दूसरी ओर घरेलु अपयोग के लिए अनिवार्य वस्तुओं जैसे की सब्जी की कीमतों में आग लगी हुई है। हाल ही में निंबु की कीमतों ने आम जनता के मन को खट्टा कर दिया था। जिसके बाद अब टमाटर भी लाल तेवर दिखाने की तैयारी में है। टमाटर की कीमतें खुले बाजार में 50 से 60 रूपये प्रति किलो तक जा पहुँची है, और आगे इसकी कीमतों में और इजाफा होने की संभावनाएँ हैं।

जाने क्यों लाल हुआ टमाटर

कृषि वैज्ञानिकों का कहना है कि ”टमाटर” की खेती के लिए समय ठंड का मौसम सर्वोत्तम होता है। ठंड के मौसम में अधिकतम तापमान 27 डिग्री से 35 डिग्री के आसपास रहता है जो कि टमाटर की खेती के लिए सहीं माना जाता है। वहीं 35 डिग्री से अधिक तापमान होने के कारण टमाटर की पैदावार अच्छी नहीं हो पाती है। जिसके कारण टमाटर का उत्पादन प्रभावित होता है। गर्मी की वजह से टमाटर की फसलों में फूल और फल नहीं लग पाते हैं, जिसके कारण पैदावार भी कम हो जाती है। पैदावार कम होने से मांग के अनुरूप आपूर्ति नहीं हो पाती और स्वतः ही कीमतें बढ़ने लगती हैं।

अभी और बढ़ेंगी कीमतें

विशेषज्ञों की मानें तो इस साल में टमाटर की कीमतों पर गर्मी का असर कुछ ज्यादा पड़ेगा। इस साल अप्रैल माह से ही तापमान सामान्य से अधिक जाने लगा है। अप्रैल में ही प्रदेश के कुछ स्थानों का तापमान 44 डिग्री के पास पहुँच गया था। इसके आगे रिकॉर्डतोड़ गर्मी पड़ने पर इसका असर टमाटर की कीमतों पर भी देखने पर मिलेगा। मई खत्म होते होते टमाटर की कीमतें आसमान छू जाएँ इस बात की पूरी आशंका है।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर

Back to top button