लंदन में बोले राहुल- भारत अभी अच्छी स्थिति में नहीं, भाजपा ने चारों तरफ ‘केरोसिन’ छिड़क रखा है, जानें कांग्रेस की हार पर क्या कहा

लंदन। राहुल गांधी ने लंदन के कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी के एक कार्यक्रम में साक्षात्कार के दौरान कांग्रेस की हार की वजह बताई तो साथ में भारतीय जनता पार्टी और आरएसएस पर जमकर हमला बोला। बता दें कि राहुल गांधी लंदन के कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी में आइडियाज फॉर इंडिया सम्मेलन में भाग लेने पहुंचे हैं।

इस दौरान उन्होंने एक साक्षात्कार भी दिया जिसमें उन्होंने कांग्रेस की हार की वजह बताई तो साथ में भारतीय जनता पार्टी और आरएसएस पर जमकर हमला बोला। उन्होंने बताया कि आखिर कांग्रेस क्यों हार रही है और भाजपा क्यों हर चुनाव में सफल हो रही है?

भाजपा ने पूरे देश में केरोसिन छिड़क दिया: राहुल

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि भारत अभी अच्छी स्थिति में नहीं है। भाजपा ने पूरे देश में केरोसिन छिड़क दिया है। आपको एक चिंगारी चाहिए और हम बड़ी मुसीबत में पड़ जाएंगे। मुझे लगता है कि यह विपक्ष, कांग्रेस की भी जिम्मेदारी है जो लोग, समुदायों, राज्यों और धर्मों को एक साथ लाती है। हमें इस तापमान को ठंडा करने की ज़रूरत है क्योंकि अगर यह तापमान ठंडा नहीं हुआ तो चीजें गलत हो सकती हैं।

राहुल ने बताई कांग्रेस की हार की वजह

कार्यक्रम के दौरान जब राहुल गांधी से जब पूछा गया कि भाजपा चुनाव क्यों जीत रही है? कांग्रेस क्यों हार रही है? तो इसके जवाब में राहुल ने कहा कि ध्रुवीकरण और मीडिया का कुल प्रभुत्व ने भाजपा को फायदा पहुंचाया है। इसके अलावा आरएसएस ने एक ऐसी संरचना का निर्माण किया है जो बड़े पैमाने पर प्रवेश कर चुकी है।

राहुल ने कहा, विपक्षी दलों और कांग्रेस को इस तरह के ढांचे का निर्माण करने की जरूरत है। राहुल ने कहा कि हमें और अधिक आक्रामक रूप से उन 60-70% लोगों के पास जाने की जरूरत है, जो भाजपा को वोट नहीं देते हैं और हमें इसे एक साथ करने की जरूरत है।

लोग उन संस्थानों पर हमले देख रहे हैं जिन्होंने देश का निर्माण किया

राहुल ने कहा कि भारत के लोग उन संस्थानों पर हमले देख रहे हैं जिन्होंने देश का निर्माण किया है। इन संस्थानों पर अब डीप स्टेट का कब्जा है। बता दें कि राहुल के साथ कार्यक्रम में शामिल होने के लिए सीताराम येचुरी, कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद, राजद नेता तेजस्वी यादव, महुआ मोइत्रा और मनोज झा समेत कई विपक्ष के नेता पहुंचे थे।

Back to top button