नोटबंदी हुई फेल! स्विस बैंक में भारतीयों ने जमकर बरसाए धन, 2021 के दौरान रिकॉर्ड रकम हुए जमा

नोटबंदी हुई फेल! स्विस बैंक में भारतीयों ने जमकर बरसाए धन, 2021 के दौरान रिकॉर्ड रकम हुए जमा

टीआरपी डेस्क। स्विटजरलैण्ड के बैंकों में भारतीयों का जमा धन रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचने को लेकर बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने तंज कसा है। उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने शुक्रवार को स्विस बैंक में भारतीय निवासियों के जमा धन में रिकॉर्ड बढ़ोतरी को लेकर एक ट्वीट भी किया है।

उन्होंने लिखा है कि भारतीय पूंजीपतियों व धन्नासेठों के स्विटजरलैण्ड के बैंकों में जमा धन 14 वर्ष के रिकार्ड स्तर पर 3.83 बिलियन फ्रैंक पहुंचने की खबर काफी चर्चा में है। उन्होंने कहा कि जमा धन के रिकार्ड स्तर पर पहुंचने से गरीबी, महंगाई व बेरोजगारी आदि के अभूतपूर्व संकट से जूझ रहे देश के लोग समझ नहीं पा रहे हैं कि वे कैसे खुश हों।

गौरतलब है कि स्विस बैंकों में भारतीयों का जमा धन बढ़कर 30 हजार 500 करोड़ से ज्यादा हो गया है। स्विस बैंकों में भारतीय कंपनियों और लोगों का पैसा 2021 के दौरान 50 फीसदी बढ़कर 3.83 अरब स्विस फ्रैंक (30,500 करोड़ रुपया से अधिक) पर पहुंच गया है। यह राशि बीते 14 वर्ष में सबसे ज्यादा है। इसमें भारत में स्विस बैंकों की शाखाओं और अन्य वित्तीय संस्थानों में जमा धन भी शामिल है। स्विट्जरलैंड के केन्द्रीय बैंक के गुरुवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक, वर्ष 2020 के अंत तक स्विट्जरलैंड के बैंकों में भारतीयों का धन 2.55 अरब स्विस फ्रैंक (20,700 करोड़ रुपये) था।

इसके अलावा, भारतीय ग्राहकों के बचत या जमा खातों में जमा राशि दो वर्ष की गिरावट की बाद 2021 में लगभग 4,800 करोड़ रुपये के सात साल के उच्चस्तर पर पहुंच गई। आंकड़ों के मुताबिक, स्विस बैंकों पर 2021 के अंत तक भारतीय ग्राहकों की कुल देनदारी 383.19 करोड़ स्विस फ्रैंक हैं। इसमें से 60.20 करोड़ स्विस फ्रैंक ग्राहकों की जमा राशि के तौर पर हैं, जबकि 122.5 करोड़ स्विस फ्रैंक अन्य बैंकों के जरिए रखे गए हैं। इसके अलावा 30 लाख स्विस फ्रैंक न्यासों आदि के जरिए हैं।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर

Back to top button