मुख्यमंत्री ने शासकीय कार्यक्रमों में छत्तीसगढ़ महतारी के चित्र को प्रमुखता से स्थान देने के दिए निर्देश

रायपुर। छत्तीसगढ़ की संस्कृति को बढ़ावा देने के प्रयासों के तहत मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज एक महत्वपूर्ण निर्णय लेते हुए सभी शासकीय कार्यक्रमों में छत्तीसगढ़ महतारी के चित्र को प्रमुखता से स्थान देने के निर्देश दिए हैं।

मुख्यमंत्री ने इस संबंध में अपने ट्वीट में कहा है कि “छत्तीसगढ़ का वैभव, संपन्नता हमारे किसानों से है, उनकी खुशहाली में छत्तीसगढ़ महतारी का ही आशीर्वाद है। हमने छत्तीसगढ़ महतारी के चित्र को सभी शासकीय कार्यक्रमों में प्रमुखता से स्थान देने का निर्णय लिया है, जिससे कि हमें हमारी माटी के गौरवशाली इतिहास, संस्कृति का स्मरण हो सके।”

ज्ञात हो कि इससे पूर्व मुख्यमंत्री द्वारा आदेशित किये जाने के बाद से सम्पूर्ण शासकीय कार्यक्रमों की शुरुआत छत्तीसगढ़ राज्यगीत “अरपा पैरी के धार” से की जाती है।

पिछले हफ्ते से हो चुकी है शुरुआत

बता दें सरकारी कार्यक्रमों में छत्तीसगढ़ महतारी के चित्र लगाने की शुरुआत पिछले सप्ताह ही हुई है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पत्थलगांव विधानसभा के बटईकेला के भेंट मुलाकात कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ महतारी की पूजा-अर्चना कर संवाद की शुरुआत की थी। पहले भी विभिन्न सरकारी, सामाजिक और राजनीतिक कार्यक्रमाें में छत्तीसगढ़ महतारी के चित्र पर पूजा-अर्चना होती रही है।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर

Back to top button