आतंकी शौकत अहमद के एनकाउंटर पर महबूबा मुफ्ती ने  उठाए सवाल-सुरक्षा बलों ने जारी की गुनाहों की फेहरिस्त

श्रीनगर। जम्मू -कश्मीर में आतंकी गतिविधियों पर अंकुश लगाने के लिए सुरक्षा बालों की ओर से कार्यवाही तेज कर दी गई है। सुरक्षा बालों ने अब तक कई आतंकियों को ढेर कर उनके मनसूबे को नाकाम कर दिया है। लेकिन आतंकी  शौकत अहमद शेख के एनकाउंटर को लेकर पीडीपी के अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने सवाल खड़े किए हैं।


जम्मू-कश्मीर पुलिस ने 20 जून को हुई मुठभेड़ को लेकर डिटेल रिपोर्ट शेयर की है। पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने आतंकवादी शौकत अहमद शेख की हत्या पर सवाल उठाए थे, जिसके कुछ घंटों बाद ही यह रिपोर्ट सामने आई है। कश्मीर जोन पुलिस ने ट्वीट किया, “हमने पहले ही 20 जून को मुठभेड़ का विस्तृत प्रेस नोट जारी किया है, जिसमें आतंकवादी शौकत के साथ 3 विदेशी आतंकी मारे गए थे। इसके अलावा, आतंकवाद से संबंधित गतिविधियों में उसकी संलिप्तता भी साझा की गई थी।”


मुफ्ती ने हिरासत में शौकत अहमद शेख की हत्या पर सवाल उठाए थे, जिसे पुलिस ने एक आतंकवादी बताया और 20 जून को कुपवाड़ा में एक मुठभेड़ में मारा गया। उन्होंने केंद्र शासित प्रदेश के युवाओं से हिंसा से दूर रहने की भी अपील की। मुफ्ती ने कहा, “मैं युवाओं और माता-पिता से युवाओं को बंदूक उठाने से रोकने की अपील करती हूं। उन्हें (बलों को) आपको मारकर पैसा मिलता है। मैं उनसे बंदूक उठाना बंद करने का अनुरोध करती हूं।”


आपकी जान लेना उनके लिए फायदे की चीज’
महबूबा ने कहा कि जम्मू कश्मीर उतार-चढ़ाव के दौर से गुजर रहा है और आने वाले समय में उसे अपने युवाओं की जरूरत पड़ेगी। उन्होंने कहा, “मैं रोज सुनती हूं कि तीन या चार युवक मारे गये हैं, जिसका मतलब है कि यहां स्थानीय भर्ती बढ़ गई है। माता-पिता और बच्चों से मेरा अनुरोध है कि वे अपनी जान बचाएं क्योंकि आपकी जान लेना उनके  लिए फायदे की चीज है। इसके लिए उन्हें  पैसे और पदोन्नति मिलती है।
IED विस्फोट के पीछे मास्टरमाइंड शौकत
प्रेस नोट के अनुसार, शोपियां में एक निजी वाहन में आईईडी विस्फोट के पीछे आतंकवादी शौकत मास्टरमाइंड था, जिसमें एक सैनिक शहीद हो गया और अन्य घायल हो गया। पूछताछ में पता चला कि वह लोलाब से शोपियां तक आतंकियों और हथियारों या गोला-बारूद को लेकर आता था। कुपवाड़ा में उसने खुद लोलाब घाटी में सक्रिय आतंकियों से जुड़ी संवेदनशील जानकारी का खुलासा किया।

Back to top button