कहीं भय तो कहीं स्वतः समर्थन से बंद कराई गयी राजधानी, भाजपा और चैम्बर ऑफ़ कॉमर्स का भी मिला समर्थन

रायपुर। उदयपुर में हुए नि:शांत हत्याकांड के विरोध में आज विश्व हिंदू परिषद व बजरंग दल द्वारा छत्तीसगढ़ बंद का आह्वान किया गया था। विहिप द्वारा आयोजित इस बंद को भारतीय जनता पार्टी द्वारा भी समर्थन मिला और सभी दुकाने व विभिन्न संस्था ने इनके द्वारा घूम घूम कर बंद कराई जा रही हैं।

बता दें कि दवाई दुकान और पेट्रोल पंप जैसे अति आवश्यक संस्थानों को खुले रखने की छूट दी गई थी। इसके बावजूद पेट्रोल पंप संचालकों द्वारा तोड़फोड़ के डर से पेट्रोल पंप बंद रखा गया है। वही शहर के सभी प्रतिष्ठानों ने चैम्बर ऑफ़ कॉमर्स के आग्रह पर एक दिन के बंद को हुए अपनी दुकाने दो बजे तक बंद रखने का ऐलान किया।

कहीं तोड़फोड़ का डर तो कहीं ज़बरदस्ती बंद कराये गए पेट्रोल पम्प

शहर के अलग अलग चौक चौराहों से लेकर अंदरूनी क्षेत्रों के पेट्रोल पम्प बंद कराये गए हैं। वाहन चालाक बंद पेट्रोल पम्प से बिना पेट्रोल लिए ही वापस लौट रहें हैं। इसपर एक पेट्रोल पम्प संचालक से पूछने पर उन्होंने बताया कि उन्हें हालांकि प्रशासन की ओर से ऐसा कोई आदेश नहीं मिला है। लेकिन विहिप और बजरंग दल समेत भाजपा कार्यकर्ता घूम घूम कर पेट्रोल बंद करवा रहे हैं। उन्हें भी तोड़फोड़ या किसी अप्रिय घटना के डर से पम्प बंद करना पड़ा है। वहीं कुछ पेट्रोल पम्प जहाँ महिलाओं द्वारा पेट्रोल डालने का काम किया जाता है, उन्होंने उनके सुरक्षा के भय से स्वतः ही बंद किया हुआ है।

चैम्बर ऑफ़ कॉमर्स ने भी दिया बंद को समर्थन

छत्तीसगढ़ चेंबर ऑफ़ कॉमर्स ने भी इस बंद का आंशिक समर्थन किया था। जिसके तहत प्रदेश की दुकानों और सभी व्यापारिक संस्थानों को दोपहर 2 बजे तक बंद करने का आग्रह किया गया था। जिसके बाद बंद का समर्थन करते हुए रायपुर पुस्तक विके्रता संघ, रायपुर इलेक्ट्रिकल मर्चेन्ट एसोसियेशन, रायपुर सराफा एसोसियेशन, मालवीय रोड शारदा चौक व्यापारी संघ, छत्तीसगढ़ सराफा एसोसियेशन, रायपुर मशीनरी मर्चेन्ट एसोसियेशन, महात्मा गांधी मार्ग व्यापारी संघ, रविभवन व्यापारी संघ, श्री बंजारी रोड व्यापारी संघ, टू व्हीलर अर्थोराइज्ड डीलर एसोसियेशन, गोलबाजार व्यापारी संघ(परिवार), गुरूनानक मार्केट शारदा चैक व्यापारी संघ, मालवीय रोड जवाहर बाजार व्यवसायिक कल्याण समिति, महादेवघाट रोड व्यापारी संघ, हार्डवेयर पेंट्स एंड सेनेटरी वेयर डीलर्स एसोसियेशन समेत अन्य सभी ने अपने प्रतिष्ठानों को बंद रखने की बात कही।

पुलिस प्रशासन अलर्ट मोड पर

प्रदेश बंद के बीच पुलिस प्रशासन किसी अप्रिय दुर्घटना के न होने के लिए सभी जिलों में अलर्ट मोड पर दिखी। राजधानी में भी एसपी प्रशांत अग्रवाल द्वारा बंद को मद्देनजर रखते हुए सभी अधिकारीयों की मीटिंग लेते हुए उनकी उनके क्षेत्रों में पूरी तैयारी करने एवं कानून व्यवस्था बनाए रखने हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए थे।

बता दें कि पुलिस द्वारा बंद के आव्हान के परिपेक्ष में सभी थानों के बलों के अलावा 400 अतिरिक्त बल, प्रत्येक थाने को अतिरिक्त पेट्रोलिंग, संवेदनशील जगहों पर फिक्स पॉइंट, क्यूआरटी एवं रिजर्व बल की व्यवस्था की गई है।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर

Back to top button