भ्रष्टाचार मामले में आप के बर्खास्त मंत्री विजय सिंगला को मिली जमानत

चंडीगढ़। पंजाब के सीएम भगवंत मान ने भ्रष्टाचार के खिलाफ बड़ी कार्यवाही करते हुए अपनी ही सरकार के स्वास्थ्य मंत्री विजय सिंगला को बर्खास्त कर दिया था । भ्रष्टाचार मामले में फंसे पंजाब के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री विजय सिंगला को आज पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय ने जमानत मंजूर की। सिंगला को 24 मई को पंजाब की भ्रष्टाचार रोधी शाखा ने गिरफ्तार किया था। गिरफ्तार से पहले ही उन्हें मुख्यमंत्री भगवंत मान ने कैबिनेट से बर्खास्त कर दिया था।


आप नेता सिंगला पर अपने ओएसडी प्रदीप कुमार के जरिए रिश्वत लेने के आरोप लगे थे। मई में मोहाली के फेज 8 पुलिस स्टेशन में उनके खिलाफ सुप्रीटेंडेंट इंजीनियर रजेंद्र सिंह से रिश्वत मांगने की शिकायत दर्ज हुई थी। FIR के अनुसार, 20 मई को सिंह से 10 लाख रुपये की मांग की गई थी। साथ ही उन्हें आगे होने वाले आवंटन के लिए एक फीसदी कमीशन देने के लिए भी कहा गया था।


नई सरकार से हुए थे बाहर
10 मार्च को ही पंजाब विधानसभा चुनाव के नतीजे घोषित हुए थे। इसके बाद मई में ही राज्य की आप सरकार की तरफ से यह बड़ी कार्रवाई की गई थी। मुख्यमंत्री कार्यालय की तरफ के मुताबिक, सिंगला ठेकों के लिए अधिकारियों से 1 प्रतिशत दलाली मांग रहे थे। साथ ही सीएमओ ने यह भी कहा था कि सिंगला के खिलाफ मजबूत सबूत मिला है।


अरविंद केजरीवाल ने की थी मान की तारीफ
सिंगला के खिलाफ सरकार की तरफ से की गई कार्रवाई पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सीएम मान की तारीफ की थी। उन्होंने ट्वीट किया था, ‘आप पर मुझे गर्व है भगवंत। आपकी कार्रवाई से मेरी आंखों में आंसू आ गए। आज पूरा देश आप पर गर्व कर रहा है।’ पंजाब के सीएम ने कहा था कि आप में भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टोलरेंस पॉलिसी है। मान ने बताया था कि उन्होंने सिंगला को कैबिनेट से बर्खास्त कर दिया है और पुलिस को उनके खिलाफ मामला दर्ज करने के निर्देश दिए हैं।

Back to top button