गोलीबारी में घायल जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे की हुई मौत, मेडिकल कॉलेज में प्रोफेसर है आबे पर गोलियां बरसाने वाला शख्स

टोकियो। जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे का निधन हो गया है। उन्हें पश्चिमी जापान में एक चुनावी कार्यक्रम में भाषण के दौरान गोली मारी गई थी। गोली लगने के बाद आबे को दिल का दौरा पड़ा और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। घटना का एक फुटेज वायरल हुआ है, जिसमें आबे को सड़क पर गिरते हुए देखा जा सकता है और कई सुरक्षाकर्मी उनकी ओर भागते हुए देखे जा सकते हैं।

आबे जब जमीन पर गिरे तो उन्होंने अपने सीने पर हाथ रखा हुआ था और उनकी कमीज पर खून लगा हुआ देखा गया। आबे को एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था। पुलिस ने एक संदिग्ध को घटनास्थल पर ही पकड़ लिया है। प्रत्यक्षदर्शियों ने नारा इलाके में गोलियां चलने की आवाज सुनी थीं। आबे संसद के ऊपरी सदन के लिए रविवार को होने वाले मतदान के मद्देनजर एक चुनावी कार्यक्रम में भाषण देने के लिए खड़े हुए थे, तभी कथित तौर पर उन पर यह हमला किया गया।

पुलिस ने हमलावर को पकड़ा

जानकारी के मुताबिक, जिस संदिग्ध ने जापान के पूर्व पीएम शिंजो आबे को गोली मारी, उसने उन्हें दो बार बन्दूक से गोली मारी और आबे के जमीन पर गिरने के बाद भी वह वहीं खड़ा रहा। आरोपी ने भागने का कोई प्रयास नहीं किया। शिंजो आबे पर नारा की एक सड़क पर भाषण देने के दौरान पीछे से एक शख्स ने हमला किया। पुलिस ने शिंजो आबे पर हमला करने वाले व्यक्ति को पकड़ लिया है।

कहा जा रहा है कि संदिग्ध हमलावर मेरीटाइम सेल्फ डिफेंस फोर्स (SDF) में काम कर चुका है। उसका नाम यामागामी तस्तुया (Yamagami Tetsuya) बताया जा रहा है। हमलावर एक मेडिकल कॉलेज में एसोसिएट प्रोफेसर है। हमले के दौरान हमलावर ने खाकी रंग की शर्ट और भूरे रंग का पैंट पहन रखा था।

शिंजो आबे की नीतियों से नाराज था हमलावर

स्थानीय मीडिया में कहा जा रहा है कि 41 साल के हमलावर यामागामी ने घर पर ही बंदूक तैयार की। उसने होम मेड गन से पूर्व पीएम शिंजो आबे पर फायरिंग की है। हमले के तुरंत बाद हमलावर को गिरफ्तार कर लिया गया. गिरफ्तारी के वक्त हमलावर मे हाथ में बंदूक पकड़ रखी थी. हमले के वक्त हमलावर ने मास्क लगा रखा था।

हमले के बाद पकड़े गए आरोपी यामागामी ने पूछताछ में बताया कि वह शिंजो आबे से बेहद नाराज था. वह उनके कामकाज से संतुष्ट नहीं था। आबे की नीतियों से दुखी था।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर

Back to top button