भारी मात्रा में कैश मिलने के बाद झारखंड के तीनों कांग्रेस विधायक सस्पेंड

नई दिल्ली। झारखंड कांग्रेस के 3 विधायकों के पास से कैश बरामद होने के बाद अब पार्टी ने बड़ी कार्यवाही की है। कैश को लेकर विपक्ष के सवालों से घिरी कांग्रेस ने अब तीनों ही विधायकों को सस्पेंड कर दिया है। झारखंड कांग्रेस के प्रभारी अविनाश पांडे ने पत्रकारों को जानकारी दी है कि जिन विधायकों को शनिवार को कैश के साथ पकड़ा गया था उन्हें तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया गया है। कांग्रेस ने जिन 3 विधायकों को सस्पेंड किया है, उनमें- रांची के खिजरी से विधायक राजेश कच्छप, कोंगारी सिमडेगा के कोलेबिरा से विधायक नमन विक्सेल और विधायक इरफान अंसारी शामिल हैं।

बता दें कि पश्चिम बंगाल के हावड़ा में कांग्रेस के इन तीनों विधायकों को भारी मात्रा में कैश के साथ पकड़ा गया था। यह रकम इतनी ज्यादा थी कि नोट गिनने की मशीन के जरिए इसकी गिनती करवानी पड़ी है। इस बरामदगी को लेकर एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया था कि एक खुफिया सूचना के आधार पर जिस वाहन में विधायक इरफान अंसारी, राजेश कच्चाप और नमन बिक्सल कोंगरी सवार थे, उसे पांचला पुलिस थाना क्षेत्र के रानीहाटीमें राष्ट्रीय राजमार्ग-16 पर रोका गया था। हावड़ा ग्रामीण की पुलिस अधीक्षक स्वाति भांगलिया ने कहा था कि हमें सटीक सूचना मिली थी कि काले रंग की एक कार में भारी मात्रा में पैसा ले जाया जा रहा है। हमने वाहनों की तलाशी शुरू कर दी और इस कार को रोका, जिसमें तीन विधायक सवार थे। कार से बड़ी मात्रा में नकदी बरामद हुई है।

उन्होंने बताया था कि नकदी गिनने के लिए मशीन मंगवाई जा रही है। विधायकों से भी धन के स्रोत और इसे कहां ले जाया जा रहा था, इसके बारे में पूछताछ की जा रही है।’ पुलिस ने बताया कि एसयूवी में विधायकों के अलावा दो अन्य लोग भी बैठे हुए थे। इस कार के एक बोर्ड पर कांग्रेस के चुनाव चिह्न के साथ ही विधायक जामताड़ा झारखंड लिखा हुआ था। इधर कांग्रेस की झारखंड इकाई ने दावा किया है कि भारी मात्रा में यह नकदी हेमंत सोरेन सरकार को गिराने की भाजपा की साजिश का हिस्सा है। कांग्रेस राज्य में लालू प्रसाद यादव की राष्ट्रीय जनता दल के साथ सोरेन सरकार का हिस्सा है।

भाजपा की साजिश- कांग्रेस

झारखंड कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष बंधु टिर्की ने पत्रकारों से कहा कि ऐसा लगता है कि यह भाजपा की साजिश है। हेमंत सोरेन सरकार के सत्ता में आने के बाद से ही भाजपा उसे अस्थिर करने का प्रयास कर रही है। अगर हम देखें कि महाराष्ट्र और कुछ अन्य राज्यों में क्या हुआ तो यह साफ हो जाएगा कि भाजपा सरकारों को सत्ता से बाहर करने के लिए धन का प्रयोग करती है।

जयराम रमेश ने कही यह बात

कांग्रेस ने पश्चिम बंगाल के हावड़ा में तीन विधायकों के कथित रूप से बड़ी नकदी के साथ पकड़े जाने के बाद भारतीय जनता पार्टी पर झारखंड में उसकी गठबंधन सरकार को अपदस्थ करने की कोशिश का आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा झारखंड में वही करना चाहती है, जो उसने महाराष्ट्र में किया था।
कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने शनिवार को ट्वीट किया कि झारखंड में भाजपा के ‘ऑपरेशन कमल’ का आज रात हावड़ा में पर्दाफाश हो गया। दिल्ली के ‘हम दो’ की योजना झारखंड में वही करने की है, जो उन्होंने एकनाथ शिंदे एवं देवेंद्र फडणवीस के सहारे महाराष्ट्र में किया। महाराष्ट्र में शिवसेना के बागी नेता एकनाथ शिंदे के हाल में मुख्यमंत्री बनने के बाद कांग्रेस ने भाजपा पर अनैतिक तरीके से सत्ता पर कब्जा करने का आरोप लगाते हुए निशाना साधा था।

TMC ने कांग्रेस का किया समर्थन

कांग्रेस के बयान का समर्थन करते हुए पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस ने दावा किया कि विधायकों की खरीद-फरोख्त तथा झामुमो नीत झारखंड सरकार को संभावित रूप से सत्ता से बाहर करने की अफवाहों के बीच नकदी बरामद की गई है। टीएमसी ने ट्वीट किया कि विधायकों की खरीद-फरोख्त और झारखंड सरकार को संभावित रूप से सत्ता से बाहर करने की अफवाहों के बीच झारखंड कांग्रेस के तीन विधायकों को बंगाल में भारी मात्रा में नकदी लाते हुए पकड़ा गया है। इस धन का स्रोत क्या है? क्या कोई केंद्रीय एजेंसी इस पर स्वत: संज्ञान लेगी? या नियम चुनिंदा लोगों पर ही लागू होते हैं?”

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर

Back to top button