रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रदेश के छात्रों के हित में बड़ा फैसला किया है। मुख्यमंत्री ने छत्तीसगढ़ में स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम आदर्श महाविद्यालय प्रारंभ करने की घोषणा की है।

इंग्लिश मीडियम स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को 12वीं के बाद उच्च शिक्षा के लिए अब बाहर नहीं जाना पड़ेगा। अब प्रदेश में चरणबद्ध ढंग से स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम आदर्श महाविद्यालय प्रारंभ होंगे। इसके तहत प्रथम चरण में आगामी शैक्षणिक सत्र जून 2023 से राज्य के प्रमुख नगरों में कम से कम 10 इंग्लिश मीडियम कॉलेज खुलेंगे।

3 सालों में सभी जिलों में होगा अंग्रेजी महाविद्यालय

इस संबंध में जानकारी दी गई है कि आगामी तीन साल में राज्य के सभी जिला मुख्यालयों में इंग्लिश मीडियम कॉलेज
प्रारंभ किए जाएंगे। गौरतलब है कि वर्तमान में राज्य में इंग्लिश मीडियम के शासकीय महाविद्यालय नहीं होने के कारण राज्य के विद्यार्थियों को उच्च शिक्षा के लिए देश के महानगरों के महाविद्यालय में प्रवेश लेना पड़ता है, महानगरों में प्रवेश लेने पर विद्यार्थियों और उनके अभिभावकों पर बड़ा आर्थिक बोझ पढ़ता है, जिसमें बड़ी राशि व्यय होती है, मगर अब राज्य में हीअंग्रेजी माध्यम में गुणवत्तापूर्ण उच्च शिक्षा उपलब्ध होगी।

अंग्रेजी महाविद्यालय खोले जाने की योजना पर अमली जामा पहनाने के लिए मुख्यमंत्री ने मुख्य सचिव को 10 दिनों के भीतर कार्ययोजना प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर