0 कलिंगा विश्वविद्यालय द्वारा गोद लिए हुए ग्रामीण क्षेत्र में स्थित शासकीय विद्यालयों के विकास के लिए उपयोगी सामग्री का वितरण

नवा रायपुर। हाल ही में कलिंगा विश्वविद्यालय के आंतरिक गुणवत्ता प्रकोष्ठ एवं राष्ट्रीय सेवा योजना ईकाई के द्वारा गोद लिए हुए ग्रामीण क्षेत्र में स्थित शासकीय विद्यालयों के बुनियादी सुविधाओं के विकास के लिए किया गया आवश्यक सामग्री का वितरण और विश्वविद्यालय में ‘‘सोशल आईडिया इंटरप्राइज चौलेंज” प्रतियोगिता के सर्वात्कृष्ट प्रतिभागी छात्रों को सम्मानित किया गया।

कलिंगा विश्वविद्यालय मध्य भारत का एक प्रतिष्ठित शैक्षणिक संस्थान है। यहाँ पर वैश्विक मापदंड के अनुरूप उच्च गुणवत्तापूर्ण और अनुसंधान केंद्रित शिक्षा प्रदान करने के साथ-साथ अपनी सामाजिक जिम्मेदारी का भी निर्वाह किया जाता रहा है। इसी उद्देश्य को ध्यान में रखते हुए कलिंगा विश्वविद्यालय के आंतरिक गुणवत्ता प्रकोष्ठ एवं राष्ट्रीय सेवा योजना ईकाई के द्वारा अपने गोद लिए हुए ग्रामीण क्षेत्र में स्थित सात शासकीय विद्यालयों के बुनियादी सुविधाओं के विकास के लिए आवश्यक सामग्री का वितरण किया गया। जबकि आईईई छात्र शाखा के द्वारा आयोजित एक दूसरे कार्यक्रम में विद्यार्थियों को सामाजिक उद्यमिता के क्षेत्र में चुनौतियों पर नये विचारों को सामने लाने के लिए प्रेरित करने और सामाजिक उद्यमिता के बारे में जागरूकता को बढ़ावा देने हेतु आयोजित इस प्रतियोगिता में सर्वाेत्कृष्ट स्थान प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को सम्मानित किया गया।

कलिंगा विश्वविद्यालय के आंतरिक गुणवत्ता प्रकोष्ठ की प्रभारी डॉ. विजयलक्ष्मी बिरादर ने बताया कि इस कार्यक्रम का उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्र में स्कूली शिक्षा में सुधार करना और इन सरकारी प्राथमिक विद्यालयों को मुलभूत बुनियादी सुविधाएं प्रदान करना है। इस कार्यक्रम के तहत शासकीय माध्यमिक विद्यालय कुहेरा, शासकीय प्राथमिक विद्यालय एवं शासकीय माध्यमिक विद्यालय कोटनी ,शासकीय प्राथमिक विद्यालय परसदा,शासकीय माध्यमिक विद्यालय तंदुल, शासकीय प्राथमिक विद्यालय, कुहेरा के संस्था प्रमुख से संपर्क करके उनके अनुरोध पर ग्रीन बोर्ड, बुक रैक, व्हील चेयर, आलमीरा, कारपेट, टेबल,कुर्सी, डस्टबिन,नोट बुक और बर्मी कम्पोस्ट खाद का वितरण किया गया।

आंतरिक गुणवत्ता प्रकोष्ठ एवं राष्ट्रीय सेवा योजना ईकाई के द्वारा विश्वविद्यालय के द्वारा गोद लिए हुए ग्रामीण क्षेत्र के स्कूलों के बुनियादी विकास के लिए आवश्यक संसाधन के साथ उन्हें नूतन सूचना प्रौद्योगिकी और नवाचार विकसित करने के लिए विभिन्न प्रशिक्षण कार्यक्रम भी आयोजित किए जाते हैं।जिसमें विश्वविद्यालय के प्राध्यापक और विद्यार्थी पूर्ण सहभागिता निभाते हैं।उक्त सामग्री वितरण कार्यक्रम में कलिंगा विश्वविद्यालय के आंतरिक गुणवत्ता प्रकोष्ठ की प्रभारी डॉ. विजयलक्ष्मी बिरादर एवं राष्ट्रीय सेवा योजना की समन्वयक डॉ. स्मिता प्रेमानंद के नेतृत्व में श्री अनुप कुमार जेना, श्री शरतचंद्र मोहंती, श्री गोपाल प्रसाद पटेल और अश्वन साहू के साथ विद्यार्थी भी उपस्थित थें।

इसी क्रम में कलिंगा विश्वविद्यालय के आईईई छात्र शाखा के द्वारा.आयोजित एक दूसरे कार्यक्रम में आईईईई छात्र शाखा और आर 10 इएसी और आईईईई मध्यप्रदेश सेक्शन के संयुक्त तत्वावधान में ‘‘सोशल आईडिया इंटरप्राइज चौलेंज’’पर विश्वविद्यालयीन विद्यार्थियों के लिए एक प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। उक्त कार्यक्रम का उद्देश्य विद्यार्थियों के द्वारा सामाजिक उद्यमिता के क्षेत्र में चुनौतियों पर नये विचारों को सामने लाने के लिए प्रेरित करना था।सामाजिक उद्यमिता के बारे में जागरूकता को बढ़ावा देने हेतु आयोजित इस प्रतियोगिता में विद्यार्थियों की छः टीम ने हिस्सा लिया।

उक्त प्रतियोगिता में मुख्य अतिथि और निर्णायक की भूमिका में पल्स एक्टिव स्टेशन के सीइओ श्री जोगिंदर टेनिकेला उपस्थित थे। उक्त प्रतियोगिता में विद्यार्थियों के छः समूह ने विभिन्न विषयों पर अपनी प्रस्तुति दी। जिसमें पहले समूह में सुश्री साक्षी पासवान, श्री तेजस नाहरगांवकर और श्री रौनक बिसेन ने ‘‘स्मार्ट पार्किंग मैनेजमेंट सिस्टम’’ विषय पर जबकि दूसरे समूह में श्री अतुल शर्मा और श्री निहाल अधिकारी ने ‘‘एथेनॉल ब्लेंडेड पेट्रोल प्रोग्राम’’ पर और तीसरे समूह में सुश्री सानिया देवांगन और श्री मिलिन्द जैन ने ‘‘स्काई लाईन’’ विषय पर अपनी प्रस्तुति दी। श्री विजय कुमार ने चौथे समूह के रुप में ‘‘एडू-टेक हाईब्रिड लर्निंग’’ पर और पाँचवें समूह की सुश्री आर्या अग्रवाल और श्री अंकित सिंह ने ‘‘लेट इट गो’’ पर अपने आइडिया को शेयर किया। इसी प्रकार छठवें समूह में श्री हर्ष प्रसाद शाह और श्री मोस्सेस जोसेफ बेंजामिन ने ‘‘कन्टिन्यूअस स्ट्रीमिंग प्लेटफार्म फार पेमेंट’’ पर अपनी प्रस्तुति दी।

मुख्य अतिथि और निर्णायकों की कमेटी के द्वारा प्रतियोगिता के उपरांत सुश्री आर्या अग्रवाल और श्री अंकित सिंह की टीम को प्रथम स्थान एवं सुश्री सानिया देवांगन और श्री मिलिन्द जैन की टीम को द्वितीय स्थान से सम्मानित किया।कार्यक्रम का संचालन आईईईई छात्र शाखा के श्री अनूप कुमार जेना ने किया जबकि धन्यवाद ज्ञापन एवं आभार प्रदर्शन श्री शरत चंद्र मोहंती ने किया।इस कार्यक्रम में आईईई छात्र शाखा के विद्यार्थी एवं आंतरिक गुणवत्ता प्रकोष्ठ के समस्त अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर