0 एमडी संजय शुक्ला के प्रयासों से लघु वनोपज संघ का सिस्टम रिचार्ज हुआ और 72 हजार महिलाओं को रोजगार दिलाने का श्रेय जाता है

विशेष संवादाता, रायपुर
प्रदेश का वन महकमा महज़ 3 महीने में अपने 6 काबिल अफसरों को अलविदा कहने वाला है। इस साल वन विभाग के मुखिया यानि पीसीसीएफ राकेश चतुर्वेदी सितम्बर में सेवानिवृत्त होंगे। इनके अलावा अक्टूबर और दिसंबर में कुल 5 भारतीय वन सेवा के अधिकारी रिटायर्ड हो जायेंगे। नए पीसीसीएफ के लिए डीपीसी भी जल्द होगी। विभागीय पदोन्न्ति समिति (डीपीसी) की बैठक के पहले ही नए पीसीसीएफ के लिए अफसरों के नामों की चर्चा शुरू हो गई है। इस पद के लिए 1985 बैच के आइएफएस संजय शुक्ला का नाम सबसे ज्यादा चर्चा में है। प्रशासनिक गलियारे में इस बात की भी चर्चा जोरों पर है कि सेवानिवृत्ति के बाद राकेश चतुर्वेदी को भी सरकार कोई पद दे सकती है। लघु वनोपज संघ के एमडी संजय शुक्ला को जल्द ही वन विभाग की कमान मिलना तय मन जा रहा है। वैसे भी प्रशासन के अधिकारीयों की एक टीम का श्री शुक्ला को समर्थन प्राप्त है। यह कहना अतिश्योक्ति नहीं होगी कि डिपार्टमेंट के वे ब्लू आई बॉय भी कहे जाते हैं।
विदित हो कि 85 बैच के आईएफएस राकेश चतुर्वेदी को सरकार ने 2019 में मुदित कुमार को हटाकर उन्हें पीसीसीएफ बनाया था। वन विभाग के प्रमुख के तौर पर वे तीन साल पूरे किए हैं। वहीँ संजय शुक्ला अगले साल 31 अगस्त को रिटायर होंगे। ऐसे में आईएफएस शुक्ला को सिर्फ 11 महीने पीसीसीएफ रहने का मौका मिलेगा। लंबे समय तक उन्होंने वन विभाग के बाहर राज्य सरकार में सेवाएं दी हैं। हाउसिंग बोर्ड के वे कमिश्नर रहे। उसके बाद आवास पर्यावरण के सचीव भी रहे। लघु वनोपज संघ के एमडी की कमान संभालने के बाद उन्होंने पूरे सिस्टम को दुरुस्त कर दिया। संघ के कार्यक्रमों का विस्तार करने से प्रदेश में 72 हजार महिलाओं को रोजगार दिलाने का श्रेय भी उन्हें दिया जा सकता है। हर्बल प्रोडक्ट की आक्रामक मार्केटिंग भी इन्हीं की देंन है।

इनकी महकमे से इसी साल विदाई

अप्रेल-मई में आईएफएस यूनुस अली, एसएसडी बड़गैया सेवानिवृत्त हो चुके हैं, सितम्बर में पीसीसीएफ राकेश चतुर्वेदी की रिटायरमेंट है। वर्ष 1988 बैच के जय सिंह म्हस्के और 2003 बैच के अनुराग श्रीवास्तव अक्टूबर में सेवानिवृत्त होंगे। जबकि दिसंबर में 1987 बैच के तीन आईएफएस पीवी नरसिंह राव, पीसी पांडेय और श्रीमती बी.वी. उमादेवी रिटायर्ड होंगी। साल 2022 दिसंबर तक कुल 6 आईएफएस की रिटायरमेंट है।