कांकेर। नक्सलियो ने कांकेर जिले में अलग अलग इलाकों में घटनाओं को अंजाम देकर दहशत फैलाने की कोशिश की है। जहां एक ओर पखांजूर में मोबाइल टावर में आगजनी की गई तो वहीं कोयलीबेड़ा में यात्री बस को नक्सलियों ने आग के हवाले कर दिया है। इधर कांकेर नारायणपुर मार्ग पर पेड़ गिराकर मार्ग को अवरुद्ध कर दिया है, वही कांकेर आमाबेड़ा मार्ग में भी बड़ी संख्या में पेड़ गिराए गए है।

चार MOBILE टॉवर को किया आग के हवाले

कांकेर जिले में कल शाम से उत्पात मचा रहे नक्सलियों
ने अलग-अलग स्थानों पर लगाए गए 4 मोबाइल टॉवर में आग लगा दी। इन स्थानों पर नक्सलियों ने पोस्टर भी चिपकाया। इसके अलावा कोयलीबेड़ा में एक यात्री बस को भी आग के हवाले कर दिया।

कैंप से 2 किलोमीटर दूर गाड़ियों में लगाई आग

इधर आज सुबह 9 बजे नक्सलियों ने पुलिस कैंप के मात्र दो किलोमीटर की दूरी पर सड़क निर्माण में लगी 5 गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया। दिन दहाड़े हुई इस वारदात के बाद पुलिस बल ने मौके पर पहुंच कर सर्चिंग अभियान शुरू कर दिया है।

पेड़ गिराकर सड़कों को किया बाधित

नक्सलियों ने आमाबेड़ा मार्ग और कांकेर – नारायणपुर मार्ग पर पेड़ काटकर गिरा दिया, जिससे दोनों मार्ग बाधित हो गए। आमाबेड़ा और नारायणपुर मार्ग पर पुलिस पार्टी घटना स्थल पहुंची और पेड़ों को हटाकर मार्ग बहाल करने का प्रयास शुरू किया।

नक्सली नेताओं को फर्जी मुठभेड़ में मारने का आरोप

31अक्टूबर की रात अन्तागढ़ ब्लॉक के कडमे में पुलिस-नक्सली मुठभेड़ में दो नक्सलियों के मारे जाने का दावा पुलिस ने किया था, जिसे नक्सली झूठा दावा बता रहे हैं। नक्सलियो ने पर्चे में इसे झूठा मुठभेड़ बताकर धोखे से नक्सल लीडर दर्शन पड्डा और जागेश को मारने का आरोप पुलिस पर लगाया है। साथ ही दोनों की मौत का बदला लेने की बात भी लिखी है।

जानिए दर्शन पड्डा और जागेश के बारे में

दर्शन पड्डा परतापुर एरिया कमेटी का सचिव था, जिस पर 39 नक्सल अपराध दर्ज हैं, दर्शन पर 8 लाख रुपये का इनाम भी घोषित था। वहीं जागेश नक्सलियो के स्मॉल एक्शन टीम का प्रभारी था। इस पर भी 8 लाख रुपये का इनाम घोषित था, दोनों के एक मुठभेड़ में मारे जाने को कांकेर पुलिस की सबसे बड़ी सफ़लता भी माना जा रहा है।

कल बस्तर बंद का आह्वान

नक्सलियों ने कांकेर जिले में बड़ी संख्या में बैनर और पर्चे के माध्यम से 22 नवम्बर को उत्तर बस्तर (कांकेर, नारायनपुर, कोंडागांव) में बंद बुलाया है। नक्सलियों के द्वारा जिले के अलग अलग इलाको में उत्पात मचाने से लोगों में दहशत का माहौल है। वहीं पुलिस ने भी सर्च अभियान तेज कर दिया है।

Hindi News के लिए जुड़ें हमारे साथ हमारे
फेसबुक, ट्विटरयूट्यूब, इंस्टाग्राम, लिंक्डइन, टेलीग्रामकू और वॉट्सएप, पर