सिद्धार्थ नगर।  केंद्र सरकार द्वारा शुरु की गई किसान सम्मान निधि योजना के तहत किसानो को प्रतिवर्ष तीन किस्तों में  6 हजार रुपए दिए जाते है। यूपी के सिद्धार्थनगर  जिले में इस योजना के तहत बड़ा गड़बड़झाला हुआ है जिसमे भूमिहीन किसानों को भी लाभान्वित कर 6. 42 करोड़ रुपए का भुगतान कर दिया गया । अब इन 10,710 भूमिहीन किसानों  को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की राशि लौटानी होगी । इन तथाकथित किसानों के पास जमीन नहीं है, जबकि इनको निधि का लाभ मिला है । कृषि और राजस्व विभाग की संयुक्त टीम के सत्यापन से पूरे मामले का पर्दाफाश हुआ है. कृषि विभाग अब इन भूमिहीन लाभार्थियों से इसके वसूली की तैयारी शुरू कर दी है ।  इसके लिए मुख्यालय को भी पत्र लिखा है ।  

दरअसल, जिले में कुल 3 लाख 50 हजार 373 किसानों को प्रधानमंत्री सम्मान निधि दी जा रही है ।  कृषि और राजस्व विभाग की टीम इसकी जांच कर रही है कि सम्मान निधि लेने वालों में कौन-कौन से किसान पात्र हैं और कौन-कौन से अपात्र. जांच द्वारा तथ्य सामने आया 10,710 भूमिहन किसान इस योजना का लाभ उठा रहे हैं ।

 सर्वाधिक इटवा तहसील के भूमिहीन किसान

प्रधानमंत्री सम्मान निधि का लाभ लेने वाले सर्वाधिक भूमिहीन किसान इटवा से है. इटवा तहसील से कुल 3,297 भूमिहीन किसान प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ उठा रहे थे ।  फिलहाल, प्रशासन इनको नोटिस भेजने की तैयारी शुरू करने जा रहा है । 

Trusted by https://ethereumcode.net