इंटरनेशनल डेस्क। बसंत पंचमी के दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा अबू धाबी में बने पहले हिंदू मंदिर का उद्घाटन किया जाएगा। PM मोदी अपनी आगामी संयुक्त अरब अमीरात ( UAE) की यात्रा के दौरान इस मंदिर का उद्घाटन करेंगे। PM मोदी की यह यात्रा 2015 के बाद से UAE की सातवीं और पिछले आठ महीनों में उनकी तीसरी यात्रा होगी।

बता दें 14 फरवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जिस मंदिर का उद्घाटन करेंगे वह भगवान स्वामीनारायण को समर्पित ये मंदिर 15,000 वर्ग मीटर के क्षेत्र में फैला हुआ है। यह मंदिर इतालवी संगमरमर से बना है और 108 फुट ऊंचा है। इस मंदिर में भगवान स्वामीनारायण, भगवान शिव, भगवान गणेश, भगवान कृष्ण और देवी राधा की मूर्तियां स्थापित हैं।

भारत और यूएई के बीच संबंधों को मजबूत करेगा यह मंदिर

यह मंदिर हिंदू धर्म और संस्कृति का प्रतीक है और भारत और यूएई के बीच संबंधों को मजबूत करेगा। यह मंदिर दुनिया भर के हिंदुओं के लिए तीर्थस्थल बन जाएगा। इस मंदिर को बनाने में 700 करोड़ रुपये से ज्यादा खर्च आया है। इस मंदिर को बनाने में नीव में 100 सेंसर लगाए गए हैं। जो तामान से लेकर भूकंप तक का डेटा देंगे।अपनी दो दिवसीय यात्रा के दौरान, PM मोदी अबू धाबी के जायद स्पोर्ट्स सिटी में एक कार्यक्रम में भारतीय समुदाय को भी संबोधित करेंगे।

PM मोदी को विश्व सरकार शिखर सम्मेलन 2024 में किया गया आमंत्रित

इसके अतिरिक्त, वह UAE के राष्ट्रपति शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान और शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम, उपराष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और यूएई के रक्षा मंत्री के साथ द्विपक्षीय बैठकें करेंगे। इन कार्यक्रमों के अलावा, पीएम मोदी को दुबई में विश्व सरकार शिखर सम्मेलन 2024 में बतौर विशिष्ट अतिथि भाग लेने के लिए आमंत्रित किया गया है, जहां वे एक विशेष मुख्य भाषण देंगे। PM मोदी को BAPS हिंदू मंदिर के उद्घाटन का निमंत्रण स्वामी ईश्वरचंद्रदास, स्वामी ब्रह्मविहारीदास और निदेशक मंडल द्वारा दिया गया ।

Trusted by https://ethereumcode.net