तहसील के बाबू ने फांसी लगाकर कर ली आत्महत्या, मिला सुसाइड नोट, अधिकारियों पर प्रताड़ना का आरोप, लिखा- मानसिक परेशानी से हार गया, मुझे माफ कीजिएगा

टीआरपी डेस्क। छत्तीसगढ़ के गरियाबंद में गुरुवार को एक तहसील क्लर्क ने फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। युवक का शव घर के कमरे में ही पंखे से लटका मिला है। पुलिस को शव के पास ही सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है। युवक ने अधिकारियों की प्रताड़ना से तंग आकर खुदकुशी करने की बात कही है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मामला देवभोग क्षेत्र का है।

कमरे से बाहर नहीं निकला तो परिजनों ने दरवाजा खटखटाया

जानकारी के मुताबिक, गरियाबंद निवासी शुभम पात्रे (25) देवभोग तहसील में सहायक क्लर्क ग्रेड-3 क्लर्क था और वहीं किराये के मकान में रहता था। रोज की तरह वह सुबह 11 बजे तक कमरे से बाहर नहीं निकला तो परिजनों ने दरवाजा खटखटाया। कोई जवाब नहीं मिलने पर झांककर देखा तो उसका शव पंखे से लटक रहा था।

नायाब तहसीलदार की मौजूदगी में दरवाजा तोड़ उतारा गया शव

सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और नायाब तहसीलदार की मौजूदगी में दरवाजा तोड़ा गया। शव के पास ही सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है। इसमें शुभम ने लिखा है कि उसकी मां बीमार रहती है। वह छुट्टी के लिए आवेदन करता तो उसे प्रताड़ित किया जाता। खाते में छुट्टी होने के बाद भी अवैतनिक किया गया। अपनी मानसिक परेशानी से हार गया। मुझे माफ कर देना।

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Twitter पर Follow करें और Youtube  पर हमें subscribe करें। एक ही क्लिक में पढ़ें  The Rural Press की सारी खबरें।